पूर्व पाकिस्तानी ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक (Abdul Razzaq) अपने उस बयान से पलट गए, जिसमें उन्होंने टीम इंडिया के प्रमुख तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) को बेबी बॉलर कहा था। रज्जाक का कहना है कि उनके बयान को गलत समझा गया। Also Read - डोनाल्ड ट्रंप का बयान- चीन के साथ सीमा विवाद पर अच्छे मूड में नहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

पीटीआई को दिए बयान में उन्होंने कहा, ‘‘मैं व्यक्तिगत रूप से कहीं से भी बुमराह के खिलाफ नहीं हूं। मैं केवल उसकी तुलना ग्लेन मैक्ग्रा, वसीम अकरम, कर्टली एम्ब्रोस, शोएब अख्तर से कर रहा था। उनका सामना करना बहुत मुश्किल होता। मेरी टिप्पणियों को गलत तरीके से लिया गया। वो विश्वस्तरीय गेंदबाज बनने की तरफ बढ़ रहा है। हमारे समय में गेंदबाजों का स्तर काफी ऊंचा था। इस पर ज्यादातर लोग असहमत नहीं होंगे। क्रिकेट का स्तर गिरा है।’’ Also Read - नेपाल फिर हिन्दू राष्ट्र बने तभी तरक्की होगी, कांग्रेस की वजह से दिखा रहा आँख: कैलाश विजयवर्गीय

पाकिस्तान खिलाड़ियों के पास भारतीयों जैसी दबाव झेलने की क्षमता नहीं

पाकिस्तान के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडर खिलाड़ियों में शामिल रहे 40 साल के रज्जाक ने कहा कि विश्व कप जैसी प्रतियोगिताओं में उनकी टीम के खिलाफ भारतीय टीम का दबदबा बना रहेगा क्योंकि भारत के पास बड़े मैचों के दबाव को झेलने की ज्यादा क्षमता है। Also Read - डोनाल्‍ड ट्रंप का ऑफर, भारत ने कहा- चीन के साथ सीमा विवाद पर बातचीत कर रहे हैं

उन्होंने कहा, ‘‘मौजूदा तेज गेंदबाजों के सामने आप उतना दबाव नहीं झेलते। विँश्व क्रिकेट एक बुरे दौर से गुजर रहा है। हम विश्वस्तरीय खिलाड़ी तैयार नहीं कर पा रहे हैं जैसा 10-15 साल पहले था। आपके पास एक ही टीम में तेंदुलकर, जहीर, सहवाग और गंगुली थे। इस गिरावट की वजह शायद जरूरत से ज्यादा टी20 क्रिकेट है।’’

पाकिस्तान की टीम 90 के दशक में ज्यादा मजबूत थी लेकिन पिछले एक दशक में भारतीय टीम उस पर भारी पड़ी है। विश्व कप में भी पाकिस्तान को हराने के मामले में भारत का रिकार्ड 7-0 है।

भारत के खिलाफ तीन बार विश्व कप (1999, 2003, 2011) मैच खेलने वाले रज्जाक ने कहा, ‘‘ भारत इस रिकार्ड को बरकरार रखेगा। ऐसा कम ही होता है कि भारत और पाकिस्तान आईसीसी प्रतियोगिता के नॉक-आउट मुकाबले में एक-दूसरे का सामना करे। वे लीग चरण में खेलते हैं जहां भारत दावेदार होता है। हमारे खिलाड़ी दबाव को नहीं झेल पाते हैं।’’