गॉल टेस्ट में केएल राहुल के न खेलने की वजह से तमिलनाडु से आने वाले अभिनव मुकुंद को टीम इंडिया में ओपनर के तौर पर शामिल किया गया था. लेकिन मुकुंद इस मौके का फायदा नहीं उठा पाए और टेस्ट के पहले दिन नुवान प्रदीप की गेंद पर 12 रन बनाकर आउट हो गए. Also Read - रविचंद्रन अश्विन सहित विकेटकीपर दिनेश कार्तिक भी टीम में शामिल

मुकुंद के आउट होने के बाद शिखर धवन और पुजार ने शानदार शतक जड़े. मुकुंद निश्चित तौर पर उन्हें मिले इस मौके का फायदा नहीं उठा पाने से निराश होंगे. मुकुंद के सस्ते में आउट होने के बाद वह फैंस के भी निशाने पर आ गए और उन्हें ट्विटर पर जमकर ट्रॉल किया गया. Also Read - 'मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बात नहीं कर पाया क्योंकि लगता था किसी को परवाह नहीं'

फैंस ने 27 वर्षीय बल्लेबाज अभिनव मुकुंद को याद दिलाया कि कि उन्होंने कैसे टेस्ट क्रिकेट में वापसी के लिए मिले बेहतरीन मौके को गंवा दिया. कुछ फैंस ने तो ये भी लिखा कि उन्हें तो लगा था कि मुकुंद का करियर 2011 में ही खत्म हो गया था. Also Read - Syed Mushtaq Ali T20 Trophy : तमिलनाडु ने दिनेश कार्तिक को बनाया कप्तान

इस टेस्ट से पहले मुकुंद ने अपने करियर में 6 टेस्ट मैचों में 18.91 की औसत से 227 रन बनाए हैं, जिसमें एक अर्धशतक शामिल हैं. उन्होंने अपना टेस्ट डेब्यू 2011 में वेस्टइंडीज के साथ किया था. धवन ने टेस्ट टीम में अपनी वापसी का जश्न गॉल टेस्ट के पहले दिन 16 गेंदों में 31 चौकों की मदद से 190 रन की तूफानी पारी खेलकर मनाया.