नई दिल्ली. अफगानिस्तान ने अपनी टेस्ट जीत का खाता खोल लिया है. ये कामयाबी उसे देहरादून के अपने होमग्राउंड पर आयरलैंड के खिलाफ मिली. आयरलैंड ने अफगानिस्तान के सामने 147 रन का लक्ष्य रखा था, जिसे उसने 3 विकेट खोकर हासिल कर लिया और 5 दिन का खेल 4 दिन में ही निपट गया. टेस्ट सीरीज के एकमात्र मुकाबले को अफगानिस्तान ने 7 विकेट से जीता और इतिहास रचा.

अफगानिस्तान ने आयरलैंड को पहली पारी में 172 रन पर समेट दिया. जवाब में अफगानिस्तान की टीम ने अपनी पहली पारी में 314 रन बनाए. दूसरी पारी में आयरलैंड पर राशिद खान कहर बनकर टूटे और 5 बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाते हुए पूरी टीम को 288 रन पर समेटने में अहम किरदार निभाया. रहमत शाह के 76 रन और इन्नउल्लाह के नाबाद 65 रन की पारी की बदौलत अफगानिस्तान ने 147 रन के लक्ष्य को आसानी से हासिल किया और अपनी पहली टेस्ट जीत का इतिहास रचा. रहमत शाह को दोनों पारियों में उनकी अर्धशतकीय पारी के लिए मैन ऑप द मैच दिया गया. रहमत ने पहली पारी में 98 रन बनाए थे और सिर्फ 2 रन से अपना शतक चूक गए थे.

अपनी पहली टेस्ट जीत के लिए अफगानिस्तान को ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ा. उसने ये कमाल इंग्लैंड और पाकिस्तान की तरह सिर्फ अपने दूसरे टेस्ट मैच में ही कर दिखाया. बता दें कि अफगानिस्तान ने अपना पहला टेस्ट भारत के खिलाफ बेंगलुरु में खेला था और गंवाया था. अब तक ऑस्ट्रेलिया एकमात्र ऐसी टीम है जिसने अपने पहले ही टेस्ट मैच में जीत दर्ज की है. टीम इंडिया को पहला टेस्ट जीतने के लिए 25 टेस्ट मैच का लंबा इंतजार करना पड़ा था.