नई दिल्लीः क्रिकेट विश्व कप 2019 के बाद रवि शास्त्री को ही भारतीय क्रिकेट टीम का हेड कोच बनाया है और उनका कार्यकाल 2021 तक बढ़ा दिया गया है. कार्यकाल बढ़ाने के साथ ही बोर्ड ने रवि शास्त्री को एक और गिफ्ट देते हुए उनकी सैलरी में भी भारी भरकम इजाफा किया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अब हेड कोच रवि शास्त्री को सालाना 10 करोड़ रुपये वेतन के रूप में दिए जाएंगे. आश्चर्य की बात यह कि टीम के कप्तान विराट कोहली भी रवि शास्त्री से बहुत पीछे हैं.

राशिद की फिरकी में फंसे बांग्लादेश के 11 खिलाड़ी, अफगानिस्तान को मिली 224 रन से जीत

कपिल देव की अध्यक्षता में रवि शास्त्री को ही भारत का हेड कोच चुना गया था और इसके पीछे उन्होंने कई सारे तर्क भी दिए थे. अब ऐसी रिपोर्ट्स आ रहीं हैं कि शास्त्री की सैलरी में 20 प्रतिशत तक की बढ़ोत्तरी की जा सकती है. इसके बाद हेड कोच को सालाना करीब 10 करोड़ का भुगतान किया जाएगा. माना जा रहा है कि वेस्टइंडीज में खेली गई हालिया सीरीज में टीम की शानदार जीत के बाद बोर्ड ने गिफ्ट के रूप में उनकी सैलरी बढ़ाने का फैसला लिया है. बता दें कि इससे पहले रवि शास्त्री को कांट्रैक्ट के मुताबिक 8 करोड़ रुपये दिए जा रहे थे.

बॉल टेंपरिंग विवाद से मिली शर्मिंदगी में मरहम है ऑस्ट्रेलिया के लिए एशेज की जीत

हेड कोच के साथ कोचिंग स्टाफ की भी सैलरी बढ़ाई जाएगी. गेंदबाजी कोच भरत अरुण को अब 3.5 करोड़ रुपये दिए जाएंगे जबकि फील्डिंग कोच आर श्रीधर को भी 3.5 करोड़ रुपये सेलरी के रूप में दिए जाएंगे. नए बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ को लगभग 3 करोड़ रुपये मिलेंगे. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने 2021 में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप तक के लिए शास्त्री को भारतीय टीम का हेड कोच बनाया है.

CPL 2019: टीम की जीत के बाद मैदान में चीयरलीडर्स के साथ जमकर नाचे शाहरुख खान, देखें Video

आपको बता दें कि बोर्ड की A+ की लि्स्ट में आने वाले भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली भी रवि शास्त्री से सैलरी के मामले में काफी पीछे हैं. विराट को बीसीसीआई के कॉन्ट्रैक्ट के मुताबिक हर साल 7 करोड़ रुपये दिए जाते है और फिलहाल उनकी सैलरी में कोई बढ़ोत्तरी नहीं हुई है तो इस तरह कप्तान कोहली रवि शास्त्री से 3 करोड़ रुपये पीछे हैं. विराट के अलावा रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह भी A+ की लिस्ट में आते हैं और उन्हें भी 7-7 करोड़ रुपये बोर्ड की तरफ से दिए जाते हैं.