Also Read - ATK-मोहन बागान के सह मालिक सौरव गांगुली डायरेक्टर के रूप में नामित

बेंगलुरु, 16 जनवरी | अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) के महासचिव कुशल दास ने भविष्य में आई-लीग और फ्रेंचाइजी प्रारूप वाली इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के विलय की संभवनाओं से इंकार नहीं किया है। आठवें आई-लीग टूर्नामेंट के उद्घाटन के मौके पर शुक्रवार को दास ने माना कि देश में दो बड़े फुटबाल लीग के आयोजन के कारण टूर्नामेंटों के कार्यक्रम निर्धारण में समस्याएं आ सकती हैं और खिलाड़ियों की थकावट भी एक बड़ी चिंता का कारण है। Also Read - लॉकडाउन में ऑर्गेनिक खेती कर खुद को तरोताजा रख रहा भारतीय फुटबॉल टीम का ये पूर्व कप्तान

दास ने कहा, “मैं स्वीकार करता हूं कि आईएसएल के आयोजन के समय कुछ समस्याएं आई थीं क्योंकि कई मैदान तैयार नहीं हो सके थे। हमारी कोशिश होगी की अगर संभव हो सका तो आई-लीग और आईएसएस का विलय किया जाए। अभी हालांकि इस विचार मैं ज्यादा कुछ नहीं कह सकता।” Also Read - सुनील छेत्री के इंटरनेशनल फुटबॉल में 15 साल पूरे, संन्यास को लेकर दिया बड़ा बयान

इंग्लैंड के स्टेफेन कांस्टेनटाइन को एक बार फिर भारतीय टीम का कोच नियुक्त किए जाने पर दास ने कहा कि न्यूजीलैंड के रिकी लॉयड हर्बट भी इस दौड़ में शामिल थे।

दास के अनुसार कांस्टेनटाइन के पास ज्यादा अनुभव है और इसी आधार पर उन्हें इस पद के लिए उपयुक्त माना गया।

साथ ही दास ने बताया कि कांस्टेनटाइन अंडर-17 टीम का कोच पद नहीं संभालेंगे। कोच के अनुसार इसके लिए अजरबैजान के अंडर-17 टीम के कोच रह चुके निखोलाई एडम के नाम पर विचार हो रहा है।