इथोपिया के एनडामलाक बेलिहू और सेहाय गेमेचु ने रविवार को दिल्ली हॉफ मैराथन में पुरुष एवं महिला वर्ग में अपना खिताब बचा लिया है। ये दोनों धावक बीते साल विजेता बने थे और इस साल भी ये दोनों जीत हासिल करने में सफल रहे हैं।

जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम से भारत के खेल मंत्री किरण रिजिजू द्वारा फ्लैग ऑफ की गई इस मैराथन में महिला वर्ग में इथोपिया का कब्जा रहा। पहले तीन स्थान इथोपिया की धावकों ने अपने नाम करे। पुरुष वर्ग में दूसरे स्थान पर भी इथोपिया के धावक रहे जबकि तीसरा स्थान केन्या के नाम रहा।

बेलिहू ने इस बार 59 मिनट 10 सेकेंड में रेस पूरी करते हुए अपना खिताब बचाया। वो हालांकि कोर्स रिकार्ड को तोड़ने से चार सेकेंड से चूक गए। कोर्स रिकार्ड इथोपिया के ही गुये एडोला के नाम है जिन्होंने 2014 में इसे स्थापित किया था।

यूरोपियन ओपन सेमीफाइनल जीत दो साल बाद किसी टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचे एंडी मरे

रेस के बाद बेलिहू ने कहा- मैं कोर्स रिकार्ड से चार सेकेंड से चूक गया इससे थोड़ी निराशा है। लेकिन ये रेस मेरे लिए अच्छी रही। मैं जीता इस बात की खुशी है।

दूसरे स्थान पर सोलोमन बेरिहू रहे। उन्होंने 59 मिनट 17 सेकेंड का समय लिया। केन्या के किबिवोट कैंडी ने 59 मिनट 33 सेकंड का समय निकालते हुए तीसरा स्थान हासिल किया।

महिलाओं में हालांकि, सेहाय खिताब बचाने के अलावा कोर्स रिकार्ड तोड़ने में भी सफल रही हैं। सेहाय ने एक घंटे 6 मिनट का समय निकाला।

रांची टेस्ट : डीआरएस का सही इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं कोहली

रेस जीतने के बाद उन्होंने कहा, “दोहा में विश्व चैम्पियनशिप खेलने के बाद मैं काफी थक गई थी। यहां आकर मैं काफी खुश हूं। मैंने कोर्स रिकार्ड तोड़ा इस बात की मुझे खुशी है। यह मेरा व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ भी है।”

दूसरे स्थान पर सेहाय की हमवतन येलामजेरे येहुआलाव रहीं जिन्होंने एक घंटे 6 मिनट एक सेकेंड में रेस पूरी की। तीसरा स्थान जेइनेबा यिमेर रहीं। उन्होंने एक घंटे 6 मिनट 57 सेकेंड का समय निकाला।