एयरटेल दिल्ली हाफ मैराथन (Airtel Delhi Half Marathon) के 15वें एडिशन के लिए रिकॉर्ड 40 हजार से अधिक धावकों के लिए मंच सज चुका है. रविवार को आयोजित होने वाले इस मैराथन में भारत के टॉप धावकों (Top Indian elite athletes) की नजर कोर्स रिकॉर्ड (Course Record ) को तोड़ने पर लगी है.

एनरिच नोर्त्जे बोले- विराट कोहली का विकेट हासिल करना अविश्वसनीय

इस मैराथन में भारत की ओर से 23 महिलाएं और 22 पुरुष धावक हिस्सा लेंगे. सुरेश कुमार पटेल (Suresh Kumar Patel), श्रीनु बुगथा (Srinu Bugatha), प्रदीप चौधरी (Pradeep Chaudhary) पुरुषों में जबकि कोर्स रिकॉर्ड धारी एल. सूर्या (L Suriya), पारुल चौधरी (Parul Chaudhary ) और प्रीति लांबा ( Priti Lamba) में महिलाओं में अपनी-अपनी चुनौती पेश करेंगी.

दुनिया के प्रीमियर एआईआईएफ गोल्ड लेबल हाफ मैराथन-एयरटेल दिल्ली हाफ मैराथन में इस बार कोर्स रिकॉर्ड तोड़ने वाले धावकों को एक लाख रुपये बोनस के रूप में नकद पुरस्कार दिया जाएगा.

अनुभवी सुधा सिंह पर रहेगी नजर 

महिला वर्ग में 2017 विजेता और कोर्स रिकॉर्ड होल्डर सूर्या और 3000 मीटर स्टीपलचेज में नेशनल रिकॉर्ड होल्डर सुधा सिंह (Sudha Singh) इस वर्ग में भारत की अगुवाई करेंगी. सूर्या ने 2017 में 70.31 मिनट समय के साथ नया कोर्स रिकॉर्ड बनाया था जबकि सुधा 2012 की विजेता हैं. इन दोनों के बीच जोरदार प्रतिस्पर्धा होने की उम्मीद है.

रोहित शर्मा से पारी का आगाज कराना बहुत अच्छा फैसला : विक्रम राठौड़

सूर्या ने 2017 में एक घंटे 1 मिनट 21 सेकेंड के समय से कोर्स रिकॉर्ड बनया था और वह फिर से इस रिकॉर्ड को तोड़ना चाहती हैं.

सुरेश कुमार को मुरली से मिलेगी चुनौती

वर्ष 2014 और 2011 के चैंपियन सुरेश कुमार पटेल भारतीय पुरुष टीम की अगुवाई करेंगे. सुरेश बेंगलुरू में होने वाले टीसीएस विश्व 10 के चार संस्करणों (2018, 2015, 2013 और 2011) में चैंपियन हैं. उन्हें युवा मैराथन धावक मुरली कुमार गवित से चुनौती मिल सकती है.

100 से अधिक पदक जीत चुके हैं बुगथा

श्रीनू बुगथा ने 2010 में इस खेल में कदम रखा था और तब से राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में 100 से ज्यादा पदक जीत चुके हैं और उनकी कोशिश भी इस साल कोर्स रिकॉर्ड पर लगी होंगी.