कोलकाता. पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत में पाकिस्तान का बॉयकॉट करने की चर्चाएं पिछले कुछ दिनों से जोर-शोर से चल रही हैं. खासकर, कई पूर्व क्रिकेटर तो आगामी विश्वकप में पाकिस्तान के साथ मैच न खेलने की मांग कर रहे हैं. बीसीसीआई से कहा जा रहा है कि वह 16 जून को होने वाले भारत-पाक मैच को टाल दे. लेकिन खेल जगत का ही एक धड़ा, पाकिस्तान बॉयकॉट से अनजान बना हुआ है. जी हां, टेनिस जगत में पाकिस्तान से न खेलने जैसी कोई बहस नहीं हो रही है. भारतीय टेनिस टीम को डेविस कप के मुकाबले के लिए पाकिस्तान का दौरा करना है. अखिल भारतीय टेनिस संघ (AITA) ने साफ कर दिया है कि भारत डेविस कप के लिए पाकिस्तान का दौरा करेगा. Also Read - BCCI के अंतरिम CEO बने हेमांग अमीन, राहुल जौहरी की जगह लेंगे

Also Read - शायद ही ऐसा कोई शख्स हो जो महेंद्र सिंह धोनी को नापसंद करता हो : ग्रीम स्मिथ

पाकिस्तानी खिलाड़ियों को नहीं दिया वीजा तो IOC ने भारत पर लगाई ये रोक Also Read - इसी महीने खत्‍म हो रहा है कार्यकाल, सौरव गांगुली बोले- अब तक पता नहीं मेरे साथ…

बीती 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के बाद ऐसी संभावना जताई जा रही थी कि AITA इसी साल सितंबर में पाकिस्तान में होने वाले डेविस कप मैच के मुकाबलों में खेलने से इनकार कर सकता है. लेकिन AITA ने साफ कर दिया है कि भारतीय टीम डेविस कप मुकाबलों के लिए पाकिस्तान जाएगी. संगठन ने मैच का स्थान बदलने का अनुरोध नहीं किया है. एआईटीए के महासचिव हिरोनमोय चटर्जी ने कहा, “हमने स्थान को बदलने का अनुरोध नहीं किया है. बाहर मौजूद ऐसी रिपोर्ट निराधार हैं.”

वर्ल्डकप में भारत-पाकिस्तान मैच पर CoA ने कहा- सरकार की सलाह पर लेंगे फैसला

चटर्जी ने कहा, “मुकाबला अभी भी बहुत दूर है. हम सितंबर में वहां खेलेंगे और फरवरी में ही उस समय की स्थिति (राजनीतिक) का अनुमान नहीं लगाया जा सकता. हम इस मुद्दे पर अभी चर्चा नहीं करेंगे. मुकाबले पर किसी प्रकार का संदेह नहीं है.” पाकिस्तान टेनिस महासंघ (पीटीएफ) ने इस महीने की शुरुआत में घोषणा की थी कि वे इस्लामाबाद के ग्रास कोर्ट पर भारत की मेजबानी करने के लिए तैयार है. AITA ने पहले कहा था कि वे मुकाबला खेलने के लिए पाकिस्तान का दौरा करने के लिए तैयार हैं, अन्यथा वे अंतर्राष्ट्रीय टेनिस महासंघ के नियमों के अनुसार अयोग्य हो जाएंगे. आपको बता दें कि डेविस कप में मार्च 1964 के बाद से किसी भी भारतीय टीम ने पाकिस्तान का दौरा नहीं किया है.

(इनपुट – एजेंसी)