नई दिल्ली : भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने इस साल मई, जून और मध्य जुलाई तक काउंटी क्लब हैम्पशायर के लिए खेलने हेतु बीसीसीआई से अनुमति मांगी है. रहाणे ने इस सम्बंध में एक ईमेल पत्र बोर्ड को भेजा है, जिसे बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति को फॉरवर्ड कर दिया है.

पत्र के मुताबिक रहाणे चाहते हैं कि बोर्ड उन्हें चार दिवसीय मैचों के लिए हैम्पशायर के लिए खेलने की अनुमति दे. रहाणे 30 मई से इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप के लिए भारतीय टीम में जगह नहीं बना सके हैं. रहाणे ने अपना ईमेल पत्र बोर्ड के सीईओ राहुल जौहरी को भेजा है और जौहरी ने उसे प्रशासकों की समिति को फॉरवर्ड कर दिया है.

आईएएनएस से बात करते हुए एक सीनियर बोर्ड अधिकारी ने कहा कि रहाणे को हैम्पशायर के लिए खेलने की अनुमति न मिले, इसका कोई कारण समझ नहीं आता. बीते साल भारतीय कप्तान विराट कोहली को भी सरे के लिए खेलने की अनुमति मिली थी.

IPL-12 : आंद्रे रसेल के बिना आज विराट कोहली की RCB से भिड़ सकती है कोलकाता, दिलचस्प होगा मैच

अधिकारी ने कहा, “बीते साल चेतेश्वर पुजारा और कोहली को काउंटी खेलने की अनुमति मिली थी और इस लिहाज से रहाणे को अनुमति मिलने में कोई दिक्कत नहीं आनी चाहिए. साथ ही रहाणे विश्व कप टीम में भी नहीं हैं. ऐसे में उनके हिस्से उस समय कोई इंटरनेशनल कमिटमेंट भी नहीं होगा. वह चार दिवसीय मैचों में खेलेंगे और इससे उन्हें विश्व कप के बाद भारत के लिए टेस्ट मैचों में फायदा मिलेगा.”

बीते साल पुजारा और कोहली के अलावा तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा भी ससेक्स के लिए खेले थे और एक सुधरे हुए गेंदबाज के तौर पर सामने आए थे. ईशांत ने खुद स्वीकार किया था कि काउंटी से उन्हें काफी फायदा मिला था क्योंकि इससे उनकी गेंदबाजी में संतुलन और आत्मविश्वास आया था. पुजारा भी बीते साल काउंटी में खेले थे और इससे उनके खेल में काफी सुधार आया था और इसके बाद वह भारत के लिए ऑस्ट्रेलिया के साथ हुई सीरीज में बेहतरीन बल्लेबाजी करने में सफल रहे थे.