नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम की बल्लेबाजी क्रम में नंबर-4 स्थान को लेकर काफी चर्चाएं चल रही हैं. विश्व कप दरवाजे पर दस्तक दे रही है और कप्तान विराट कोहली, कोच रवि शास्त्री तथा चयनकर्ताओं की नजरें अब आईपीएल पर लगी हैं, जहां से वह इस स्थान के लिए किसी बल्लेबाज को चुन सकते हैं. आईपीएल फ्रेंचाइजी राजस्थान रॉयल्स के कप्तान अजिंक्य रहाणे भी खुद को इस स्थान के लिए उपयुक्त मान रहे हैं. Also Read - बारिश से प्रभावित मुकाबले में भारत ने बनाए 62/2, ऑस्‍ट्रेलिया के पास 307 रन की बढ़त

रहणे ने कहा कि विश्व कप को लेकर वह ज्यादा नहीं सोच रहे हैं. उन्होंने कहा कि अगर वह आईपीएल में अच्छा करते हैं तो खुद ही भारतीय टीम में जगह बना सकते हैं. रहाणे ने कहा, “विश्व कप स्थान को लेकर यह सोच नहीं बदलेगा क्योंकि आप अंत में क्रिकेट ही खेल रहे हैं, चाहे वह आईपीएल हो या कोई अन्य टूर्नामेंट. आपको रन बनाने होंगे और टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करना होगा. सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आपको आगे के बजाय राजस्थान रायल्स के बारे में ज्यादा सोचना चाहिए. अगर मैं आईपीएल में अच्छा करता हूं, तो विश्व कप में खुद ही नाम आ जाएगा.” Also Read - Rishabh Pant की बोगस अपील पर खुद को रोक नहीं पाए Rohit Sharma, मैदान पर ही लेने लगे मजे, देखें वीडियो

वर्ल्ड कप 2019 में धोनी का विकल्प होगा ये खिलाड़ी, पॉन्टिंग ने किया दावा Also Read - IND vs AUS: डेब्‍यूटेंट टी नटराजन, वाशिंगटन सुंदर की शानदार गेंदबाजी से 369 पर सिमटा ऑस्‍ट्रेलिया

यह पूछे जाने कि बतौर कप्तान क्या आप दबाव महसूस कर रहे हैं, उन्होंने कहा, “नहीं, बिल्कुल भी नहीं. पिछला साल हमारे लिए वास्तव में शानदार था, खासकर तब जब हम दो साल बाद वापसी कर रहे थे. टीम की कप्तानी करना एक शानदार अनुभव था. टीम प्रबंधन के इस समर्थन करने के लिए मैं उन्हें धन्यवाद देना चाहता हूं और मुझे कोई दबाव महसूस नहीं होता है. इस सीजन में हमारे लिए टीम का एकजुट होकर खेलना महत्वपूर्ण है क्योंकि यह एक लंबा टूर्नामेंट है.”

1 साल 4 दिन के इंतजार के बाद सचिन ने किया था असंभव को संभव

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज लेग स्पिनर शेन वॉर्न इस साल टीम के ब्रांड एंम्बेसेडर होंगे. रहाणे ने कहा, “वॉर्न के साथ का अनुभव बेहद शानदार रहा है. सीजन चार, मेरा पहला और उनका बतौर खिलाड़ी आखिरी सीजन था. उन्हें समझना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि वह एक दिग्गज हैं. वह हमेशा से जुड़े रहे और हमारे साथ रणनीति बनाते रहे हैं. एक टीम के रूप में और व्यक्तिगत रूप से भी मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा है.”