नई दिल्ली : टीम इंडिया का ऑस्ट्रेलिया दौरा 21 नवम्बर से शुरू होगा. ऑस्ट्रेलिया में टीम को 3 टी-20, 4 टेस्ट और 3 वनडे मैच खेलने है. इसके लिए टीम का ऐलान भी हो चुका है. भारत ने अनुभवी खिलाड़ी चेतेश्वर पुजारा, मुरली विजय और अजिंक्य रहाणे को टेस्ट टीम में शामिल किया गया है. ये सभी खिलाड़ी इस सीरीज से पहले ऑस्ट्रेलियाई पिचों पर खेल चुके हैं. लिहाजा भारत के युवा खिलाड़ियों को उनके अनुभव का फायदा मिलेगा. ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया के रिकॉर्ड को देखें तो अच्छा नहीं रहा है. लेकिन इस बार भारत के लिए विजय, पुजारा और रहाणे का प्रदर्शन काफी अहम होगा.

विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई थी. यहां 4 टेस्ट मैचों की सीरीज खेली गई, जिसमें भारत को 0-2 से हार का सामना करना पड़ा. टीम इंडिया सीरीज भले ही हार गई, लेकिन कोहली और विजय का प्रदर्शन प्रभावी रहा था. कोहली ने सीरीज में 4 शतक जड़े थे. वहीं विजय ने 8 पारियों में 482 रन बनाए थे. जब कि रहाणे ने 8 पारियों में 399 रन बनाए थे. लिहाजा इस बार रहाणे और विजय से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी. अहम बात यह है कि भारत ने अब तक ऑस्ट्रेलिया में एक भी टेस्ट सीरीज नहीं जीती है.

विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया में जड़े हैं 5 टेस्ट शतक, जानें कौन है सबसे ज्यादा रन बनाने वाला खिलाड़ी

भारत ने ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए युवा खिलाड़ी पृथ्वी शॉ़, हनुमा विहारी और रिषभ पंत को भी मौका दिया. ये खिलाड़ी घरेलू मैचों में अच्छा प्रदर्शन करते रहे हैं. पृथ्वी और रिषभ इंग्लैंड के खिलाफ अच्छा खेले थे और अब भी फॉर्म में हैं. लिहाजा अगर इन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह मिलती है तो इन खिलाड़ियों को खुद को बेहतर साबित करने का अच्छा मौका होगा. अहम बात यह भी है कि ये खिलाड़ी अभी तक ऑस्ट्रेलिया में नहीं खेले हैं.