41 बार की चैंपियन मुंबई को रणजी ट्रॉफी 2019-20 ग्रुप बी मैच में कर्नाटक के खिलाफ भी हार का सामना करना पड़ा है. कर्नाटक ने मुंबई को तीसरे दिन सुबह 5 विकेट से पराजित कर पूरे 6 अंक अर्जित किए.

इरफान पठान ने किया खुलासा- किस खिलाड़ी ने दी थी सलामी बल्लेबाजी करने की सलाह

मुंबई की ओर से रखे गए 126 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कर्नाटक ने 5 विकेट पर 129 रन बनाए. उसकी ओर से देवदत्त पडिक्कल ने 46 गेंदों पर 5 चौकों और 2 छक्कों की मदद से सर्वाधिक 50 रन बनाए. ओपनर आर समर्थ ने 55 गेंदों पर 34 रन की पारी खेली. डेब्यू कर रहे रोहन कदम ने 21 और कप्तान करूण नायर ने 10 रन का योगदान दिया.

रणजी ट्रॉफी इतिहास में ये तीसरा मौका है जब मुंबई को लगातार दो मैचों में शिकस्त मिली है. इससे पहले मुंबई को 2005/06 सीजन में महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के खिलाफ लगातार दो मैचों में शिकस्त मिली थी जबकि 2013/14 सीजन में मुंबई को महाराष्ट्र और 2014/15 में जेएंडके ने हराया था. मौजूदा सीजन में कर्नाटक से पहले रेलवे ने मात दी थी.

मुंबई की घरेलू मैदान पर लगातार दूसरी हार है. इससे पहले उसे रेलवे के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था. कर्नाटक की मुंबई के खिलाफ 2013-14 सीजन से ये चौथी जीत है.

ओलंपिक ईयर 2020 में शूटर मनु भाकर, पहलवान बजरंग पूनिया और शटलर पीवी सिंधू के बीच कोहली पर भी रहेगी नजर

मुंबई के पहली पारी में बनाए गए 194 रन के जवाब में कर्नाटक ने 218 रन बनाए थे. मुंबई की दूसरी पारी 149 रन पर सिमट गई थी. मुंबई ने पांच विकेट पर 109 रन से खेलना शुरू किया. मुंबई की ओर से दूसरी पारी में सरफराज खान ने नाबाद 71 रन की पारी खेली.

सरफराज जिम्मेदारी से खेल रहे थे लेकिन उन्हें दूसरे छोर पर साथ नहीं मिला. कर्नाटक की ओर से बाएं हाथ के तेज गेंदबाज प्रतीक जैन ने 4 विकेट चटकाए. पृथ्वी शॉ ने दूसरी पारी में बल्लेबाजी नहीं की क्योंकि कंधे की चोट के कारण वह शनिवार को राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के लिए रवाना हो गए थे. अजिंक्य रहाणे का बल्ला भी खामोश रहा. रहाणे ने पहली पारी में 7 और दूसरी पारी में एक रन बनाए.