नई दिल्ली : भारतीय टेस्ट टीम के उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे ने शनिवार को यहां कहा कि यह गलत धारणा है कि शीर्ष क्रम पर केवल बड़े शॉट खेलने वाले बल्लेबाज ही सफल होते हैं जबकि स्कोरबोर्ड को चलाने के लिए खिलाड़ियों के पास अपने तरीके होते हैं. रहाणे एक साल से अधिक समय से भारतीय वनडे टीम से बाहर हैं, लेकिन फिर भी उन्हें अपने तरीके से खेलना जारी रखना पसंद है.

मुंबई के इस बल्लेबाज ने एक वेबसाइट से कहा, ‘‘लोग हमेशा ऐसी बातें करते हैं कि शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों को बड़ा शॉट खेलने वाला होना चाहिए लेकिन यह जरूरी है कि उसे अपनी क्षमताओं तथा अपने तरीकों पर विश्वास हो. यह बड़े शॉट खेलने के बारे में नहीं है, किसी को एक छोर संभाले रखने की भूमिका निभानी होती है और उसके साथ का बल्लेबाज बड़े शॉट खेल सकता है.’’

पृथ्वी शॉ को लेकर उड़ी थी ये अफवाह, आलोचकों को दिया ये जवाब

उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे हमेशा अपनी क्षमताओं पर विश्वास है और आपको अपने खेल के तरीके के साथ बना रहना चाहिए. यही मायने रखता है कि कब तक आप अपने खेल पर ध्यान देते हैं.’’

रहाणे आगामी इंडियन प्रीमियर लीग में राजस्थान की अगुवाई करने के साथ बल्ले से अच्छा प्रदर्शन की उम्मद करेंगे ताकि विश्व कप से पहले राष्ट्रीय चयनकर्ताओं को प्रभावित कर सकें.

IPL 2019 से पहले चेन्नई हुई तैयार, धोनी-रैना ने जमकर बहाया पसीना

रहाणे ने कहा कि स्टीव स्मिथ की वापसी से आईपीएल में राजस्थान को फायदा होगा. उन्होंने कहा, ‘‘राजस्थान के खिलाड़ी के रूप में उनका (स्मिथ) वापस आना अच्छा है. वह एक शानदार खिलाड़ी हैं और वैसे खिलाड़ी का टीम में होना हमेशा अच्छा होता है. हम सभी उनके मैच जीतने की क्षमता के बारे में जानते हैं.’’