नई दिल्लीः अभी कुछ ही वक्त हुआ था कि बॉल टैंपरिंग का विवाद खिलाड़ियो से थोड़ा दूर हुआ था लेकिन एशेज के दौरान यह मुद्दा एक बार फिर से उठ खड़ा हुआ है. इंग्लैंड के स्टार बल्लेबाज और पूर्व कप्तान एलेस्टर कुक ने अपनी आत्मकथा में बॉल टैंपरिंग को लेकर कई बड़े और अहम खुलासे किए हैं. कुक ने इस मुद्दे पर ऑस्ट्रेलिया के ओपनर बल्लेबाज डेविड वार्नर को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया है. कुक ने अपनी आत्मकथा में लिखा कि ऑस्ट्रेलिया एक ऐसी टीम है जो जीत हासिल करने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है. Also Read - India vs Australia 4th Test: रोहित शर्मा को अपने शॉट पर आउट होने का नहीं कोई पछतावा, बोले- ऐसे ही खेलूंगा

Video: समुद्र में बोट को बनाया डांस फ्लोर और फिर लुंगी डांस पर जमकर थिरके ब्रावो और शाहरुख खान Also Read - Watch VIDEO: Rohit Sharma ने हवाई छलांग लगाकर लपका कैच, देखते रह गए David Warner

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियो के सबसे ज्यादा करीब माने जाते हैं इंग्लैंड के खिलाड़ी इसलिए दोनों टीम के खिलाड़ी एक दूसरे को काफी अच्छे से जानते हैं. एलिस्टर कुक इंग्लैंड के एक सीनियर खिलाड़ी हैं और वे 7 एशेज सीरीज का अहम हिस्सा रहे हैं. अपनी आत्मकथा में उन्होंने लिखा कि जब 2017-18 में एशेज सीरीज के बाद सेलीब्रेशन हो रहा था तब वार्नर ने मुझे बताया था कि फर्स्ट क्लास मैंच में उन्होंने किस प्रकार हाथ में पट्टी बांधकर गेंद से छेड़छाड़ करते थे. उन्होंने लिखा कि वार्नर गेंद को छेड़ने के और भी टिप्स देते लेकिन उस जगह मौजूद स्टीव स्मिथ ने उन्हें रोक दिया. Also Read - IND vs AUS, 4th Test: लंच तक भारत ने वार्नर-हैरिस को किया सस्‍ते में आउट, स्मिथ ने जमाए पांव

रवि शास्त्री पर मेहरबान हुई BCCI, सैलरी में इतने करोड़ का इजाफा, कोहली भी हैं बहुत पीछे

कुक ने लिखा कि जब मैंने स्मिथ की तरफ देखा तो ऐसा लग रहा था कि वह वार्नर से कह रहे हो कि तुम्हें इसका खुलासा नहीं करना चाहिए. इंग्लैंड के इस पूर्व कप्तान ने सीधे तौर पर कुछ भी नहीं कहा लेकिन अपने लेख से यह साबित कर दिया कि ऑस्ट्रेलिया मैदान में जीत के उद्देश्य से उतरती है और वह इसके लिए कुछ भी कर सकती है. उन्होंने कहा कि खुद ऑस्ट्रेलिया के लोग टीम के इस तरह के काम से संतुष्ट नहीं होते लेकिन टीम अब बहुत आगे निकल गई है.

बॉल टेंपरिंग विवाद से मिली शर्मिंदगी में मरहम है ऑस्ट्रेलिया के लिए एशेज की जीत

आपको बता दें पिछले साल केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ डेविड वार्नर और स्टीव स्मिथ के खिलाफ बॉल टैंपरिंग के आरोप लगे थे जिसके बाद वार्नर और स्मिथ पर बोर्ड की तरफ से एक साल का प्रतिबंध लगा था. प्रतिबंध खत्म होने के बाद एशेज में खेलने उतरी पूरी ऑस्ट्रेलियाई टीम दुनिया भर के क्रिकेट प्रेमियों का दिल जीतने में लगी हुई है लेकिन कुक के इस खुलासे से टीम की खेल भावना पर फिर से सवाल खड़े हो सकते हैं.