नई दिल्ली: टीम इंडिया के गेंदबाज कुलदीप यादव इंग्लैंड के खिलाड़ियों के लिए एक पहेली की तरह थे. भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए टी-20 सीरीज के पहले मैच में कुलदीप ने 5 विकेट झटके थे. लेकिन कार्डिफ में खेले गए दूसरे मुकाबले में स्थितियां बदल गईं. यहां कुलदीप एक भी विकेट नहीं ले पाए और इंग्लैंड ने भारत को 5 विकेट से हरा दिया. इस मुकाबले में एलेक्स हेल्स ने नाबाद 58 रन बनाए. इसलिए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया. मुकाबले के बाद हेल्स ने बताया कि किस तरह से उन्होंने कुलदीप के खिलाफ तैयारी की. Also Read - धोनी भाई के साथ खेलते हुए कोच की कमी महसूस नहीं होती : कुलदीप यादव

Also Read - भारत vs ऑस्ट्रेलिया : 14 दिन क्वारंटीन, टी-20 सीरीज पर बहस जारी

इस मुकाबले से पहले हेल्स ने कभी भी कुलदीप का सामना नहीं किया था. मुकाबले के बाद हेल्स ने कुलदीप की गेंदबाजी का जिक्र करते हुए कहा, मैंने इससे पहले कभी भी कुलदीप का सामना नहीं किया था. मैंने मुकाबले से पहले उसकी गेंदबाजी की कुछ फुटेज देखी थी और फिर एक प्लान तैयार किया. उस प्लान के तहत ही मैंने बल्लेबाजी की. हमारा लक्ष्य काफी लम्बा है. हमारा लक्ष्य टी-20 विश्वकप 2020 है और हम एक अच्छी पॉजीशन हासिल करना चाहते हैं. Also Read - Happy Birthday Chahal: रवि शास्त्री, कुलदीप यादव ने भारतीय स्पिनर को दी शुभकामनाएं

’19वें ओवर’ की वजह से टीम इंडिया हार गई मैच, कोहली ने बताया मैच का टर्निंग पॉइंट

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए 3 टी-20 मैचों की सीरीज के दूसरे मैच में हेल्स ने 41 गेंदों का सामना करते हुए 4 चौकों और 3 छक्कों की मदद से नाबाद 58 रन बनाए. उनकी इस बेहतरीन पारी की बदौलत इंग्लैंड ने भारत को 5 विकेट से हरा दिया. अहम बात यह रही कि पिछले मैच में 5 विकेट हासिल करने वाले भारतीय गेंदबाज कुलदीप यादव इस मैच में एक भी विकेट नहीं ले पाए. उन्होंने 4 ओवर में 34 रन दिए. हालांकि कप्तान विराट कोहली ने इसके बावजूद उनकी तारीफ की.

37वां बर्थडे मना रहे हैं महेन्द्र सिंह धोनी, फैन्स को जरूरी पढ़नी चाहिए ये 7 बड़ी उपलब्धियां

बता दें कि भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही टी-20 सीरीज के पहले मैच में भारत ने 8 विकेट से जीत हासिल की थी. जब कि दूसरे मैच में टीम इंडिया को 5 विकेट से हार का सामना करना पड़ा. इसके बाद सीरीज का तीसरा और आखिरी टी-20 मैच ब्रिस्टोल में 8 जुलाई को खेला जायेगा. टीम इंडिया इस सीरीज के बाद 3 वनडे मैच 5 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी.