रियो ओलंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट भारतीय महिला स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप एकल के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर गई हैं जबकि युवा लक्ष्य सेन और लंदन ओलंपिक की कांस्य पदकधारी साइना नेहवाल हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई हैं. सिंधू ने सुंग जि ह्यून पर सीधे गेम में जीत दर्ज कर अंतिम-8 में अपनी जगह पक्की की. छठी वरीय सिंधू ने 49 मिनट तक चले मुकाबले में 21-19 21-15 से जीत हासिल की. सिंधू का सामना अब जापान की चौथी वरीय नोजोमी ओकुहारा और डेनमार्क की लिने होजमार्क जार्सफेल्ट के बीच मुकाबले की विजेता से होगा. Also Read - याद नहीं पिछली बार कब इतना लंबा ब्रेक लिया था : पीवी सिंधु (PV Sindhu)

नीता अंबानी खेल जगत के टॉप 10 प्रभावशाली महिलाओं में शामिल Also Read - पुलिसकर्मियों और डॉक्टरों पर पत्थर फेंके जाने से दुखी हैं एथलीट हिमा दास, PM को बताया

संघर्षपूर्ण मुकाबले में हारे लक्ष्य सेन Also Read - कोरोना से लड़ने के लिए सिंधु ने दिए 10 लाख रुपये दान, मदद के लिए आगे आए पाकिस्तान और बांग्लादेश के क्रिकेटर

लक्ष्य सेन पुरुष एकल के दूसरे दौर में डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन से सीधे गेम में पराजित होकर टूर्नामेंट से बाहर हो गए. सेन को पुरुष एकल के 45 मिनट तक चले दूसरे दौर के मैच में दूसरे वरीय और दुनिया के सातवें नंबर के खिलाड़ी डेनमार्क के विक्टर से 17-21 18-21 से हार का सामना करना पड़ा. उन्होंने हांगकांग के च्युक यू ली को 59 मिनट चले पहले दौर के कड़े मुकाबले में 17-21 21-8 21-17 से हराया था.

साइना की टोक्यो ओलंपिक की उम्मीदों को झटका

भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल की ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने की उम्मीदों को झटका लगा जब वह जापान की अकाने यामागुची के खिलाफ शिकस्त के साथ पहले दौर से बाहर हो गईं.

साइना को बुधवार को दुनिया की तीसरे नंबर की खिलाड़ी यामागुची के खिलाफ सिर्फ 28 मिनट में 11-21 8-21 से हार झेलनी पड़ी. साइना बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में 46267 अंक के साथ 20वें स्थान पर चल रही हैं और 2012 लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता को 2020 तोक्यो खेलों में जगह बनाने के लिए 28 अप्रैल की कट आफ तारीख तक शीर्ष 16 में जगह बनानी होगी.

विदेश मंत्रालय की IPL का आयोजन नहीं करवाने की सलाह, गेंद अब आयोजकों के पाले में

साइना को ओलंपिक में क्वालीफाई करने के लिए कुछ अच्छे नतीजे हासिल करने होंगे. आगामी हफ्तों में इस भारतीय खिलाड़ी को स्विस ओपन (17 से 22 मार्च), इंडिया ओपन (24 से 29 मार्च) और मलेशिया ओपन (21 मार्च से पांच अप्रैल) में हिस्सा लेना है.

जापान की खिलाड़ी के खिलाफ साइना की 11 मुकाबलों में यह नौवीं हार है. वह मौजूदा सत्र में तीसरी बार पहले दौर में बाहर हुईं. साइना की हार के साथ महिला एकल में विश्व चैंपियन पीवी सिंधू भारत की एकमात्र उम्मीद बची हैं. सिंधू ने बुधवार को अमेरिका की बेइवेन झेंग को सीधे गेम में हराया था.

कश्यप को पहले दौर में लगा झटका 

पुरुष एकल में बुधवार को पी कश्यप पहले दौर के मुकाबले के बीच से हट गए जबकि बी साइ प्रणीत को हार का सामना करना पड़ा. कश्यप ने सिर्फ एक मिनट बाद ही शेसार हिरेन रुस्तावितो के खिलाफ मुकाबले से हटने का फैसला किया. वह उस समय 0-3 से पीछे थे.

मिश्रित युगल में प्रणव जैरी चोपड़ा और एन सिक्की रेड्डी की जोड़ी ने भी दूसरे दौर में जगह बनाई जब सी वेई झेंग और या कियोंग हुआंग की शीर्ष वरीय जोड़ी उस समय मुकाबले से हट गई जब 4-5 से पीछे थी.