नई दिल्ली. किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ लो स्कोरिंग मैच में हैदराबाद ने रोमांचक जीत दर्ज की. ये मैच गेंदबाजों का था क्योंकि इसमें दोनों टीमों के बल्लेबाज बैकफुट पर नजर आए. लेकिन, इसके बावजूद हैदराबाद के पांडे जी ने अपना नाम कर लिया. पंजाब के गेंदबाजों के खिलाफ वो अकेले ऐसे हैदराबादी बल्लेबाज थे जो लोहा लेते और उनसे जूझते दिख रहे थे. हालांकि ऐसा करते करते उन्होंने एक खास रिकॉर्ड को भी अपने नाम कर लिया. Also Read - रोहित की इंजरी को लेकर सवालों के घेरे में आया टीम मैनेजमेंट; फीजियो ने बिना जांच के बोल दिया चयन के लिए उपलब्ध नहीं हैं शर्मा

Also Read - ‘पांडे जी ने मेरे जैसी पारी खेली’: वीरेंदर सहवाग ने की मनीष पांडे की तारीफ

पांडे जी की ‘कछुआ’ चाल Also Read - राजस्थान के खिलाफ अर्धशतकीय पारी खेल शंकर ने कहा- ये मेरे लिए करो या मरो का मैच था

पंजाब के खिलाफ हैदराबाद के पांडे जी यानी की मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज मनीष पांडे ने अर्धशतक जड़ा. उन्होंने 51 गेंदों का सामना करते हुए 3 चौके और 1 छक्के के दम पर 54 रन बनाए. लेकिन इस पारी के दौरान उन्होंने अपने 50 रन 48 गेंदों पर पूरे किए. क्रिकेट के एक ऐसे फॉ़र्मेट में जिसमें तेजी मायन रखती है, पांडे जी टीम के सबसे बड़े विलेन भी बन सकते थे, लेकिन बन गए वो हीरो क्योंकि हैदराबाद की टीम ये मुकाबला जीत गई.

टीम हारी पर हीरो बने अंकित राजपूत ,पत्नी संग मनाया 5 विकेट की कामयाबी का जश्न

टीम हारी पर हीरो बने अंकित राजपूत ,पत्नी संग मनाया 5 विकेट की कामयाबी का जश्न

रिकॉर्ड बुक में पांडे जी

कमाल की बात ये है कि हैदराबाद की इस जीत में मनीष पांडे ने एक खास रिकॉर्ड भी बनाया. वो अब आईपीएल में शिखर धवन के साथ सबसे धीमी रफ्तार में अर्धशतक जमाने वाले हैदराबादी बल्लेबाज बन गए हैं. पांडे और धवन दोनों ने 48-48 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया है. मनीष पांडे से पहले शिखर धवन ने IPL 2016 में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट के खिलाफ 48 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया था.

बेशकीमती रहा पांडे जी का अर्धशतक

VIDEO: राशिद खान की 'बॉल ऑफ द टूर्नामेंट' पर बल्लेबाजी भूले लोकेश राहुल!

VIDEO: राशिद खान की 'बॉल ऑफ द टूर्नामेंट' पर बल्लेबाजी भूले लोकेश राहुल!

बहरहाल, पंजाब के खिलाफ पांडे की पारी बड़ी कमाल की रही. जिस तरह से सनराइजर्स के गेंदबाजों ने लो स्कोरिंग मैच का रूख मोड़ा उसमें धीमे-धीमे ही सही मनीष पांडे के बल्ले से निकले बड़े बेशकीमती साबित हुए. दरअसल, पांडे के इस प्रयास की वजह से सनराइजर्स के स्कोर बोर्ड ने भी रेंगना जारी रखा था, उसकी वजह से जब हैदराबादी गेंदबाज गेंदबाजी करने उतरे तो गेल और राहुल की अर्धशतकीय पारी के बावजूद उन्हें अपना जौहर दिखाने का वक्त मिला.