नई दिल्ली. ये तो सब जानते हैं कि महेन्द्र सिंह धोनी को इंडियन आर्मी से कितना लगाव है. धोनी को जब भी मौका मिलता है वो अपना वक्त भारतीय सेना के साथ बिताने निकल पड़ते हैं. धोनी खुद भी ये कई बार कह चुके हैं कि अगर वो क्रिकेट नहीं खेल रहे होते तो आज भारतीय सेना का हिस्सा होते. हालांकि, हम आपको बता दें कि धोनी टेरिटोरियल आर्मी के 106 पारा बटालियन का हिस्सा हैं. यही वजह है कि जब धोनी को महामहिम रामनाथ कोविंद के हाथों देश के तीसरे सबसे बड़े नागरिक सम्मान पद्म भूषण से नवाजा गया तो उन्होंने इस पुरस्कार को सेना की वर्दी में लिया. इस सम्मान को पाने के एक दिन बाद धोनी ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया भी दी और सेना का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि इससे उनका हौसला 10 गुणा बढ़ गया है.


धोनी के पद्मभूषण बनने से जितने वे गद-गद हैं उतने ही उनके चेन्नई सुपर किंग्स के साथी खिलाड़ी हरभजन सिंह भी खुश हैं. भज्जी ने इस बड़ी उपलब्धि पर धोनी और उनके पूरे परिवार को शुभकामनाएं दी है.

 

बता दें कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी को पद्मभूषण 2 अप्रैल के ऐतिहासिक मौके पर दिया गया है. क्रिकेट इतिहास के पन्नों में दर्ज ये वो तारीख है जिस दिन भारत ने महेन्द्र सिंह धोनी की कप्तानी में वनडे वर्ल्ड कप का खिताब दूसरी बार उठाया था. धोनी ने पद्मभूषण को सिर्फ सेना की वर्दी में ग्रहण ही नहीं किया बल्कि इस सम्मान को पाते वक्त सेना के अंदाज और मिजाज को फॉलो भी किया.

महेंद्र सिंह धोनी को मिला पद्म भूषण अवॉर्ड, सेना की वर्दी में लिया सम्मान

महेंद्र सिंह धोनी को मिला पद्म भूषण अवॉर्ड, सेना की वर्दी में लिया सम्मान

धोनी के पद्मभूषण से सम्मानित होने के वीडियो को शेयर कर टीम इंडिया के पूर्व धाकड़ बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग ने ट्वीट किया, ‘ बिल्कुल वैसा ही मार्च पास्ट, वैसा ही सैल्यूट, सबकुछ भी सेना की तरह शानदार’

 

धोनी के इस खास मौके का गवाह उनकी पत्नी साक्षी धोनी भी बनी जो कि पीली साड़ी पहने राष्ट्रपति भवन में मौजूद थीं और इस पूरे एतिहासिक लम्हों को गवाह बन रही थीं.

बहरहाल, अब जब धोनी का हौसला पद्मभूषण से 10 गुणा बढ़ चुका है तो उम्मीद है कि अब इसका असर IPL में भी दिखेगा और चेन्नई सुपरकिंग्स को इसका फायदा भी मिलेगा.