नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच अनिल कुंबले ने कहा है कि धोनी की टीम में वापसी को लेकर अभी कुछ भी नहीं कहा जा सकता, लेकिन भारतीय क्रिकेट में स्वर्णिम योगदान के लिए उनकी शानदार विदाई होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि वे एक उचित विदाई के हकदार हैं. कुंबले ने कहा कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को इस पूरे मुद्दे पर महेंद्र सिंह धोनी से बात करनी चाहिए.

पत्रकार ने की छोटी सी गलती और देने पड़ गए एक बोतल बियर के लिए 49 लाख रुपए

कुंबले ने कहा कि माही ने विश्व कप के बाद अपने आप को क्रिकेट से दूर कर लिया था और वेस्टइंडीज के दौरे में उनका सेलेक्शन नहीं हुआ और इसके बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भी वे टीम में नहीं हैं इसका क्या मतलब है. अगर धोनी आगामी टी20 विश्व कप की टीम में फिट बैठते हैं तो बोर्ड को उन्हें सभी मैच खिलाने चाहिए अगर ऐसा नहीं है तो फिर बोर्ड को उनके संन्यास के बारे में जल्द ही फैसला लेना होगा. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बोर्ड को आने वाले एक से दो महीने में ही इस बारे में फैसला लेना होगा.

वर्ल्ड कप में रनों का अंबार लगाने वाले वार्नर एशेज में रन बनाने को तरसे, लगाई शून्य पर आउट होने की हैट्रिक

कुंबले ने कहा कि धोनी पर अब फैसला करना जरूरी है क्योंकि इसके बाद ही युवा खिलाड़ियों को मौका मिलेगा. उन्होंने कहा इस बारे में बोर्ड और चयन समिति को ही फैसला लेना होगा. पूर्व गेंदबाज कुंबले ने कहा कि अब यह बोर्ड पर निर्भर करता है कि वह आगे बढ़ना चाहती है या फिर पीछे ही मुड़ कर देखेगी. उन्होंने कहा कि इस बात को मैं पक्के से नहीं कह सकता कि वह टीम में वापसी करेंगे या नहीं.

21 साल की उम्र में अगर धोनी की जगह लेने के बारे में सोचूंगा तो बहुत मुश्किल हो जाएगी : पंत

धोनी के विकल्प के बारे में उन्होंने कहा कि ऋषभ पंत ने अपने आप को हमेशा ही साबित किया है और धोने के बाद एक बेहतर ऑप्शन हैं. उन्होंने कहा कि ऋषभ एक उभरते हुए खिलाड़ी हैं और खासतौर पर उन्होंने टी20 में बेहतर परफार्म किया है लेकिन अभी उन्हें और भी सीखना है. उन्होंने कहा कि अब सब कुछ एमएसके प्रसाद की चयन समिति पर ही निर्भर करता है कि वे क्या आगे बढ़कर निर्णय लेंगे.