भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने हाल ही में कहा था कि देश में कम से कम पांच टेस्ट सेंटर होने चाहिए ताकि लोगों को स्टेडियम आकर मैच देखने के लिए प्रेरित किया जा सके. क्रिकइंफो की रिपोर्ट के अनुसार, कोहली के इस बयान का अब पूर्व भारतीय कप्तान और कोच अनिल कुंबले (Anil Kumble) ने भी समर्थन किया है. कुंबले का मानना है कि इससे टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा मिलेगा.

पढ़ें:- शाकिब अल हसन को देना होगा नोटिस का जवाब : बीसीबी

कुंबले ने क्रिकेटनेक्स्ट से कहा, “मुझे लगता है कि टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा देने का निश्चित रूप से यह एक तरीका है. इन्हें कुछ सेंटरों तक सीमित किया जाए और साथ ही टेस्ट मैच के समय को चुनना भी अहम होता है. हम जानते हैं कि त्योहारों के समय में पोंगल के दौरान टेस्ट मैच चेन्नई में होते थे. सत्र की शुरूआत के समय में दिल्ली और बंगलुरू में टेस्ट मैच होते थे. मुंबई और कोलकाता में टेस्ट मैच होते थे.”

“मुझे लगता है कि टेस्ट क्रिकेट के लिए इन सेंटरों को बढ़ावा देना भी जरूरी है ताकि लोगों को पता होगा कि ये-ये टेस्ट सेंटर हैं. इससे सीजन के शुरू में ही पता चल जाएगा कि यहां टेस्ट मैच होने हैं ताकि आप टेस्ट क्रिकेट के लिए टिकट बेच सको और सुनिश्चित करो कि दर्शक मैच देखने आएं.”

पढ़ें:- आयरलैंड को मिला ऑस्‍ट्रेलिया का टिकट, टी20 विश्‍व कप के लिए किया क्‍वालीफाई

भारतीय क्रिकेट टीम ने हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ को तीसरे टेस्ट मैच में पारी और 212 रन से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 3-0 क्लीन स्वीप हासिल किया था.

कप्तान कोहली इस जीत के बावजूद स्टेडियम में आए दर्शकों की संख्या से खुश नहीं थे और उनका मानना था कि देश में कम से कम पांच टेस्ट सेंटर होने चाहिए ताकि लोगों को मैच देखने के लिए प्रेरित किया जा सके और वे स्टेडियम में आकर मैच देख सके.

कोहली ने कहा था, “मेरे विचार से हमारे पास कम से कम पांच टेस्ट मैच खेलने के मुख्य सेंटर होने चाहिए. जो भी टीम भारत में टेस्ट मैच खेलने आए उन्हें ये पता होना चाहिए कि वे इन पांच टेस्ट सेंटर पर मैच खेलने वाली है.”