भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के पूर्व अध्यक्ष अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि भारतीय बोर्ड के बिना विश्व संस्था की कोई प्रासंगिकता नहीं है.

BCCI को मिला क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया का साथ, ICC की इस योजना का खुलकर किया विरोध

वित्त राज्यमंत्री ठाकुर सांसद स्टार खेल महाकुंभ पुरस्कार वितरण समारोह के सिलसिले में हमीरपुर आ रखे थे. उनके भाई अरुण धूमल (Arun Dhumal) अभी बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष हैं. उन्होंने कहा कि बीसीसीआई में कोषाध्यक्ष के पद पर अरुण धूमल की ताजपोशी से हिमाचल का नाम उंचा हुआ है. उन्होंने आशा व्यक्त की कि अरुण धूमल अपने पद पर रहते हुए देश व प्रदेश में क्रिकेट को आगे बढ़ाने का काम करेंगे.

ठाकुर ने कहा, ‘बीसीसीआई के बिना आईसीसी की कोई प्रासंगिकता नहीं है क्योंकि इससे उसे अपने कामकाज के संचालन के लिये 75 प्रतिशत का अनुदान मिलता है.’

विराट कोहली के नेतृत्‍व में भारतीय टेस्‍ट क्रिकेट काफी मजबूत हुआ: अनिल कुंबले

उन्होंने इसके साथ ही उम्मीद जताई कि सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) की अगुवाई में बीसीसीआई आईसीसी के सामने यह मुद्दा उठाएगा.

(इनपुट-भाषा)