नई दिल्ली: अफगानिस्तान के कप्तान असगर स्टैनिकजई का मानना है कि उनकी टीम के ‘विश्वस्तरीय’ स्पिनर 14 जून से बेंगलुरू में होने वाले एकमात्र टेस्ट मैच में भारत के दमदार बल्लेबाजों को गंभीर चुनौती पेश करेंगे. अफगानिस्तान टेस्ट क्रिकेट में अपना बहुप्रतीक्षित पदार्पण चिन्नास्वामी स्टेडियम में करेगा और स्टैनिकजई ने कहा कि उनका लक्ष्य भारत को अच्छी चुनौती पेश करना है जो अपने नियमित कप्तान विराट कोहली के बिना इस मैच में उतरेगा. Also Read - कनकशन विवाद पर भारतीय टीम के समर्थन में आए Anil Kumble, रिप्‍लेसमेंट नियम पर कही ये बात

Also Read - ब्रायन लारा की इस युग के श्रेष्ठ खिलाड़ियों में इन 2 भारतीय को मिली जगह, देखें पूरी लिस्ट

स्टैनिकजई ने कहा, ‘‘कोहली खेले या न खेले तब भी भारत शीर्ष टीम है और अपनी सरजमीं पर तो वह बेहद दमदार है. कोहली बहुत बड़ा खिलाड़ी है और हम उनके खिलाफ खेलने का लुत्फ उठाते.’’ Also Read - India vs Australia 2nd T20: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज पर कब्जा करने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

उन्होंने कहा, ‘‘चाहे कौन खेल रहा है, हर कोई जानता है कि भारत का उसकी सरजमीं पर सामना करना कितना मुश्किल है. यह सीखने के लिये लिहाज से बहुत अच्छा अनुभव होगा लेकिन हम निश्चित तौर पर चुनौती से परेशान नहीं हैं. हम जीत के लिये खेलेंगे. हमारे पास विश्वस्तरीय स्पिनर हैं और वे भारत को परेशानी में डाल सकते हैं.’’

RCB के गेंदबाजों में गेल और राहुल का था खौफ, जीत हासिल करने के लिए बनाई थी ये रणनीति

कोच फिल सिमन्स जहां टीम को पांच दिवसीय चुनौती के लिये शारीरिक और मानसिक तौर पर तैयार करने पर जोर दे रहे हैं वहीं स्टैनिकजई का मानना है कि चार दिवसीय क्रिकेट से टेस्ट ढांचे में ढलना कोई बड़ा मसला नहीं होगा. अब तक 86 वनडे और 51 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेल चुके स्टैनिकजई ने कहा, ‘‘हम उनके खिलाड़ियों से सीखना चाहते हैं और वे हमसे सीख सकते हैं. हां, हम अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे हैं लेकिन हम प्रथम श्रेणी मैचों के पर्याप्त अनुभव के साथ इस मैच में उतरेंगे.’’

ICC के दोबारा चेयरमैन बने शशांक मनोहर, निर्विरोध हुआ चुनाव

उन्होंने कहा, ‘‘हम एक साल में लगभग दस चार दिवसीय मैच खेलते हैं और दो बार आईसीसी अंतरमहाद्वीपीय कप जीत चुके हैं. टेस्ट निश्चित तौर पर भिन्न होगा लेकिन मैं यह नहीं कहूंगा कि इसमें बहुत बड़ा अंतर है.’’ टीम के मुख्य खिलाड़ी स्पिनर राशिद खान और मुजीब जादरान तथा ऑलराउंडर मोहम्मद नबी अभी आईपीएल में खेल रहे हैं. राशिद चोटी के लेग स्पिनर के रूप में उभरे हैं तथा मुजीब, जाहिर खान और कैस अहमद भी तेजी से सुधार कर रहे हैं.

स्टैनिकजई ने कहा, ‘‘स्पिन हमारी ताकत है और इसमें कोई संदेह नहीं. हमारे पास दौलत और शापूर जादरान जैसे अच्छे तेज गेंदबाज भी हैं जो 140 किमी की रफ्तार से गेंदबाजी कर सकते हैं. इसलिए हमारे पास संसाधन हैं.’’