नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया ने ओल्ड ट्रैफर्ड में बुधवार से इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले चौथे एशेज टेस्ट के लिए 12 सदस्यीय टीम का एलान कर दिया है. टीम में कुछ उथल पुथल के बाद बाएं हाथ के बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा को शामिल नहीं किया गया है. ख्वाजा ने श्रृंखला में अब तक खेले गए छह पारियों में 20.33 की औसत से 13 से 40 के बीच चार बार स्कोर बनाए हैं. क्रिकेट डॉट कॉम की रिपोर्ट के अनुसार ख्वाजा आखिरी बार दो साल पहले ऑस्ट्रेलिया टेस्ट टीम से बाहर हुए थे.

इंग्लैंड में चल रही एशेज सीरीज (Ashes Series) में तब रोमांच बढ़ गया जब इंग्लैंड में पहला टेस्ट गंवाने के बाद वापसी की और तीसरा टेस्ट जीतकर सीरीज बराबर कर दी. इस सीरीज में सबसे अहम और चर्चित खिलाड़ी स्टीव स्मिथ (Steve Smith) रहे जिन्होंने पहले मैच की दोनों पारियों में शतक लगाए और उसके बाद दूसरे टेस्ट में जब वे घायल हुए तो टीम पिछड़ती दिखने लगी. तीसरे टेस्ट में चोट की वजह से स्मिथ नहीं खेल सके और इंग्लैंड को इसका फायदा मिला और उसने टेस्ट जीतकर सीरीज 1-1 से बराबर कर दी. अब स्मिथ को चौथे टेस्ट के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम में शामिल कर लिया गया है.

कंकशन चोट के कारण बाहर हुए थे स्मिथ

सीरीज के दूसरे टेस्ट की पहली पारी के दौरान स्मिथ को इंग्लैंड के पेसर जोफ्रा आर्चर के एक तेज बाउंसर गर्दन पर लग गई और उन्हें फौरन मैदान से जाना पड़ा इसके कुछ देर बार स्मिथ वापस तो आए, लेकिन वे जल्द ही आउट हो गए और फिर दूसरी पारी में वे कंकशन इंजुरी के कारण बाहर हो गए. इसके बाद स्मिथ को तीसरे टेस्ट में भी शामिल नहीं किया गया. अब स्मिथ को चौथे टेस्ट के लिए 12 सदस्यीय टीम में तो शामिल कर लिया गया है, लेकिन उनकी जगह उस्मान ख्वाजा को टीम से बाहर कर दिया गया.

क्यों बाहर हुआ ख्वाजा

बाएं हाथ के बल्लेबाज ख्वाजा पिछले कुछ समय से अपने खराब फॉर्म से जूझ रहे थे. पिछली छह पारियों में उन्होंने 20.33 के औसत से रन बनाए थे. दूसरे टेस्ट की दूसरी पारी में स्मिथ की जगह मार्नस लेबुशेन को शामिल किया था. जिन्होंने स्मिथ की तरह बल्लेबाजी तो नहीं की, लेकिन टीम को निराश भी नहीं किया. उन्होंने हेडिंग्ले में दो हाफ सेंचुरी लगाई थी पर वे टीम की हार टाल न सके. ऐसे में स्मिथ की वापसी पर लेबुशेन की जगह ख्वाजा पर गाज गिरी. अब लेबुशेन तीसरे स्थान पर बल्लेबाजी करेंगे जबकि स्मिथ अपने चौथे स्थान पर बैटिंग करेंगे.

स्मिथ के साथ मिचेल स्टार्क भी टीम में

स्मिथ की वापसी से ऑस्ट्रलियाई टीम में उत्साह है, जिसे सीरीज बचाने के लिए दो मैचों में से केवल एक जीत की दरकार है. ऑस्ट्रेलिया ने इससे पहले एशेज सीरीज अपने नाम की थी, इसलिए सीरीज बचाने के लिए उसका केवल एक ही मैच जीतना काफी होगा. इसके अलावा तेज गेंदबाज जेम्स पैटिंसन की जगह मिचेल स्टार्क की वापसी हुई है जिन्होंने डर्बीशायर के खिलाफ अभ्यास मैच में सात विकेट लिए थे. स्टार्क ने हाल ही में आईसीसी विश्व कप में सबसे ज्यादा 27 विकेट लिए थे.

चौथे टेस्ट के लिए ऑस्ट्रेलिया की प्लेइंग इलेवन: डेविड वार्नर, मार्कस हैरिस, मार्नस लेबुशेन, स्टीव स्मिथ, ट्रेविस हेड, मैट वेड, टिम पेन, पैट कमिंस, पीटर सिडल, मिचेल स्टार्क, नाथन लॉयन, जोश हेजलवुड.