लीड्स: आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम अपने स्टार बल्लेबाज स्टीवन स्मिथ के बिना ही गुरुवार से हेडिंग्ले में इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली एशेज सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में बढ़त लेने के इरादे से मैदान पर उतरेगी. आस्ट्रेलिया ने एजबेस्टन में पहला टेस्ट मैच 251 रन से जीता था जबकि वर्षा बाधित दूसरा टेस्ट मैच ड्रॉ रहा था. मेहमान टीम अभी भी पांच मैचों की एशेज सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाए हुई है.

आस्ट्रेलिया को तीसरे टेस्ट मैच में स्मिथ की कमी खलेगी. स्मिथ दूसरे टेस्ट मैच में जोफरा आर्चर की गेंद पर चोटिल हो गए थे और फिर इसके बाद वह दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने नहीं आए थे. स्मिथ अब तीसरे टेस्ट से भी बाहर हैं. स्मिथ की जगह मार्नस लाबुशाने को टीम में शामिल किया गया था. लाबुशाने ने दूसरी पारी में अर्धशतक भी जमाया था. स्मिथ ने पहले टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक लगाया था और फिर उन्होंने दूसरे टेस्ट की पहली पारी में शानदार 92 रन बनाए थे.

गेंदबाजी में टीम के पास पैट कमिंस, जोश हैजलवुड, पीटर सीडल और मिशेल स्टार्क जैसे तेज गेंदबाज हैं. ये गेंदबाज किसी भी परिस्थिति में विपक्षी बल्लेबाज को मुसीबत में डाल सकते हैं. आस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर पहले ही यह कह चुके हैं कि उनकी टीम 18 साल बाद इंग्लैंड में एशेज जीतने के लिए दृढसंकल्प है.

दूसरी तरफ, मेजबान इंग्लैंड की टीम सीरीज में वापसी करना चाहेगी. तीसरे टेस्ट में मेजबान टीम की नजरें बल्ले के साथ-साथ गेंद से भी आस्ट्रेलियाई टीम पर दबाव बनाने की होगी. हालांकि पिछले दो टेस्ट मैचों में टीम की सलामी जोड़ी का न चल पाना टीम के लिए चिंता की बात है. बेन स्टोक्स ने दूसरे टेस्ट मैच में शतक जड़कर फॉर्म में लौटने के संकेत दे दिए हैं.

ओपनर जैसन रॉय ने पिछली चार पारियों में केवल 40 रन बनाए हैं और इस मैच में हो सकता है कि उन्हें मध्यक्रम में उतारा जाए. मेजबान टीम इस मैच में बिना किसी बदलाव के ही अपनी 12 सदस्यीय टीम के साथ उतरेगी. गेंदबाजी में टीम एक बार फिर जोफरा आर्चर से आक्रामक गेंदबाजी की उम्मीद करेगी. इसके अलावा टीम के पास बेन स्टोक्स और क्रिस वोक्स जैसे गेंदबाज विपक्षी टीम पर दबाव बनाना चाहेंगे. विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे आर्चर ने अपने पदार्पण टेस्ट मैच में घातक बाउंसर के दम पर पांच विकेट चटकाये थे.

टीमें (संभावित) :-

आस्ट्रेलिया : टिम पेन (कप्तान व विकेटकीपर), डेविड वॉर्नर, कैमरून बेनक्राफ्ट, मार्कस हैरिस, जोश हैजलवुड, ट्रेविस हेड, उस्मान ख्वाजा, मैथ्यू वेड, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, पीटर सीडल, नाथन लॉयन, मैथ्यू वेड, जेम्स पैटिंसन, मार्नस लाबुशाने.

इंग्लैंड : जोए रूट (कप्तान), जोफ्रा आर्चर, जॉनी बेयरस्टो, स्टुअर्ट ब्रॉड, रोरी बर्न्‍स, जोस बटलर, सैम कुरैन, जोए डेनले, जैक लीच, जेसन रॉय, बेन स्टोक्स, क्रिस वोक्स.