बर्मिघम: एशेज-2015 का तीसरा टेस्ट मैच बुधवार से एजबेस्टन मैदान पर खेला जाएगा। पांच मैचों की इससीरीज में आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड 1-1 की बराबरी पर हैं। जाहिर है, एजबेस्टन में दोनों टीमों के बीच आगे निकलने की होड़ लगेगी, जो काफी रोचक होगी। कार्डिफ में 169 रनों की जीत के साथ इंग्लैंड ने बढ़त बनाई थी लेकिन आस्ट्रेलिया ने लॉर्ड्स में 405 रनों की जीत के साथ अपनी धमक दिखाई थी। यह भी पढ़े:इस तरह का प्रदर्शन अस्वीकार्य : एलिस्टर कुक Also Read - पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा- रवींद्र जडेजा सोच रहे होंगे उनकी चोट ठीक होने में इतना समय क्यों लग रहा है

Also Read - India vs England: अक्षर पटेल ने बताया इंग्लैंड के खिलाफ पिंक बॉल टेस्ट में पांच विकेट हॉल लेने का राज

इंग्लैंड के लिए पिछली हर को भउलाना मुकिल है लेकिन इश्के बावजूद मेजबान टीम इसे भुलाते हुए अगे की ओर देखना का प्रयास करेगी। इंग्लिश् टीम ने इस ओर कदम बढ़ाते हुए इयान बेल को तीसरे क्रम पर बल्लेबाजी के लिए उतारने का फैसला किया है और लेग स्पिनर अदिल राशिद को अंतिम-11 में शामिल किया है। इग्लैंड के लिए शीर्ष क्रम की नाकामी चिंता का विषय है। इससे उबरने के लिए मेजबानों ने जॉनी बेयरस्ट्रॉ को पारी की शुरुआत के लिए बुलाया है। इस स्थान पर गैरी बैलेंस अब तक बुरी तह नाकाम रहे हैं। Also Read - भारत के लिए सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय विकेट लेने वाले चौथे गेंदबाज बने रविचंद्रन अश्विन; जहीर खान को पीछे छोड़ा

दूसरी ओर, आस्ट्रेलिया भी बल्लेबाजी की चिंता से उबरने का प्रयास ्रकरेगा। खासतौर पर कप्तान माइकल क्लार्क खाब दौर से बाहर निकलकर अपनी टीम को मजबूती प्रदान करने की कोशिश करेंगे। भ्रमणकारी टीम के लिए गेंदबाजों ने अच्छा काम किया है और बल्लेबाजों की नाकामी को काफी हद तक छुपाने में सफलता हासिल की है। क्रिस रोजर्स के चोट से उबरने से मेहमान टीम का आत्मबल बढ़ा है।