नई दिल्ली: भारत के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का मानना है कि भारत के पास मजबूत तेज गेंदबाजी आक्रमण है और ईशांत शर्मा को पहले टेस्ट में इसकी अगुवाई करते देखकर अच्छा लगा. ईशांत ने बर्मिंघम में पहले टेस्ट में सात विकेट लिये हालांकि भारत को 31 रन से पराजय झेलनी पड़ी. नेहरा ने कहा, ‘‘हमारे पास कई विकल्प है लेकिन सबसे अहम बात गुणवत्ता है. हमारे पास छह सात तेज गेंदबाज हैं और एक या दो पीछे भी है जो बेहतरीन हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘पहले टेस्ट में हमने 20 विकेट लिये और ईशांत शर्मा जैसे अनुभवी गेंदबाज को अगुवाई करते देखकर अच्छा लगा.’’ Also Read - IND vs AUS: सूर्यकुमार यादव को फिर नहीं मिली टीम इंडिया में जगह, फैंस मांग रहे न्याय

Also Read - IND vs AUS: इन IPL स्‍टार्स को भी मिला ऑस्‍ट्रेलिया का टिकट, नेट्स में बल्‍लेबाजों को कराएंगे प्रैक्टिस

नेहरा ने कहा, ‘‘मोहम्मद शमी चोटिल था और वापसी करना आसान नहीं होता लेकिन उसने शानदार गेंदबाजी की. उमेश यादव काफी प्रतिभाशाली है. जसप्रीत बुमराह ने अच्छा प्रदर्शन किया है और वनडे में भुवनेश्वर कुमार नंबर एक गेंदबाज है.’’ Also Read - लंदन की अदालत में नीरव मोदी की जमानत याचिका लगातार सातवीं बार खारिज : सीबीआई

INDvENG: अजिंक्य रहाणे ने मानी टीम इंडिया की गलती, ऑल आउट होने की बताई ये वजह

उन्होंने कहा, ‘‘नवदीप सैनी और मोहम्मद सिराज भी पीछे नहीं है . दोनों भारत ए टीम का हिस्सा रहे हैं और मैने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर के साथ भी उन्हें देखा है. दोनों काफी प्रतिभाशाली हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास इस दौरे पर काफी अनुभवी गेंदबाजी आक्रमण है.’’

नेहरा ने कहा कि हरफनमौला हार्दिक पांड्या गेंदबाज के तौर पर निखरे हें लेकिन अभी भी उन्हें सहारे की जरूरत है. उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि वह टेस्ट या टी20 या वनडे में पांचवें गेंदबाज के रूप में उतरता है तो उसे सहारे की जरूरत होती है. वह दस ओवर लगातार निरंतरता के साथ गेंदबाजी नहीं कर सकता. उसके प्रदर्शन में सुधार की जरूरत है.’’