नई दिल्ली: रॉयल चैलेन्जर्स बैंग्लोर के बॉलिंग कोच आशीष नेहरा ने सोमवार को उम्मीद जतायी की आईपीएल 2018 में गेंदबाज टीम को चैम्पियन बनाने में अहम भूमिका निभाएंगे. आरसीबी की टीम में विराट कोहली, एबी डिविलियर्स और क्रिस गेल जैसे बल्लेबाज कई सत्र तक जुड़ें रहे हैं, लेकिन फिर भी टीम कभी खिताब नहीं जीत पायी. हालांकि टीम ने तीन बार 2009, 2011 और 2016 में फाइनल का सफर तय किया है.

IPL2018: लक्ष्मण ने बॉल टेम्परिंग पर दिया बयान, वॉर्नर पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के फैसले का इंतजार करेगी हैदराबाद

आरसीबी के साथ कम्प्यूटर और सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी ‘एचपी’ प्रमुख प्रायोजक के तौर पर जुड़ रही है जिसके तहत टीम की जर्सी पर कंपनी का लोगो होगा. इस करार के मौके पर नेहरा ने कहा बल्लेबाजी हमेशा से आरसीबी का मजबूत पक्ष रहा है लेकिन इस बार टीम में कई विश्व स्तरीय गेंदबाज है जो टीम को पहली बार चैम्पियन बनाने में अहम भूमिका निभा सकते है.

नेहरा ने कहा, ”हमारे पास युजवेन्द्र चहल और वॉशिंगटन सुंदर जैसे फॉर्म में चल रहे गेंदबाज है. हालांकि सबको पता है कि बेंगलुरू का मैदान गेंदबाजों के लिए ज्यादा मददगार नहीं है. पिछले साल गेंद को कुछ टर्न मिल रहा था, उससे पहले नौ साल तक 180 से 200 रन का लक्ष्य भी पीछा करने वाली टीम हासिल कर ले रही थी.”

VIDEO: गेल के साथ शहजाद ने किया डांस, ICC ने कहा ”दिस इज स्प्रिट ऑफ क्रिकेट”

नेहरा ने कहा, ”मैं खुद दस साल तक आईपीएल खेला हूं और दूसरे डग आउट से आरसीबी को देखा है और उस मैदान में काफी खेला हूं. मेरा काम टीम के गेंदबाजों के साथ अपना अनुभव साझा करने का होगा चाहे वो नवदीप सैनी, उमेश यादव या चहल हो. सब अच्छे गेंदबाज है इसलिए टीम का हिस्सा है.”

आईपीएल में 100 से ज्यादा विकेट लेने वालों में शामिल नेहरा ने कहा, ”हम भाग्यशाली है कि ऐसे गेंदबाज टीम के साथ जुड़े, ये ऐसे खिलाड़ी है जिनके लिए अगर हम बोली नहीं लगाते तो कोई और कोई लगाता. मेरा मुख्य काम गेंदबाजों को उस (बेंगलुरू) मैदान पर क्या सर्वश्रेष्ठ हो सकता है यह बताना है क्योंकि हमे वहां सात मैच खेलने है.

भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेली जायेगी वनडे सीरीज, पढ़ें कहां आयोजित होगा पहला मैच

टीम के कप्तान विराट कोहली के साथ अच्छे रिश्ते पर नेहरा ने कहा कि इससे टीम को फायदा होगा. उन्होंने कहा, ”यह काफी जरूरी है कि कप्तान और कोच की सोच मिले. नेहरा ने कहा कि क्रिकेट में तकनीक के आने से कोच का काम थोड़ा आसान हुआ है. उन्होंने कहा, ”टीम में इस बार कई ऐसे गेंदबाज है जिन्हें ज्यादा अनुभव नहीं लेकिन वे प्रतिभाशाली है जिसमें मोहम्मद सिराज, नवदीप सैनी और कुलवंत खेजरोलिया शामिल है ऐसे गेंदबाजों को तकनीक की मदद से मैं चीजों को बेहतर तरीके से समझा सकूंगा.”