इंग्लैंड (England) क्रिकेट बोर्ड के डायरेक्टर एश्ले जाइल्स का मानना है कि विश्व कप और एशेज सीरीज में राष्ट्रीय टीम के नायक के तौर पर सामने आने वाले बेन स्टोक्स (Ben Stokes) को बेवजह निशाना बनाया जा रहा है।

मंगलवार को स्टोक्स और उनकी पत्नी की एक तस्वीर छापकर उनपर घरेलू हिंसा के आरोप लगाए गए थे। हालांकि उनकी पत्नी क्लेयर स्टोक्स ने एक ट्वीट के जरिए सभी आरोपों को खारिज किया था और इस तरह की खबरें फैलाने वालों को गैर जिम्मेदाराना बताया था।

खबर ये भी है कि स्टोक्स और उनकी मां 30 साल पुरानी पारिवारिक त्रासदी को फ्रंट पेज छापने वाले द सन अखबार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर सकते हैं।

ईसीबी डायरेक्टर जाइल्स ने माना कि वो स्टोक्स को मिल रही इस स्पॉटलाइट को लेकर काफी चिंतित हैं। उन्होंने कहा, “जैसे ही मैंने वो (स्टोक्स और उनकी पत्नी से जुड़ी झूठी घरेलू हिंसा की) खबर देखी, मैं समझ गया कि उसमें कोई दम नहीं है लेकिन फिर भी दोनों से बात करना अच्छा रहा।”

ऑस्ट्रेलिया दिग्गज डेविड वार्नर ने इस बड़ी पारी से दिए फॉर्म में लौटने का संकेत

जाइल्स ने आगे कहा, “मुझे लगता है कि ये चिंता का विषय है, जैसे उसके प्रोफाइल को उसके खिलाफ इस्तेमाल किया जा सकता है और वो उसके परिवार के प्रति कितने अतिसंवेदनशील हैं। जितना बड़ा आपका प्रोफाइल होगा, उतनी ही परेशानी बढ़ेगी। कुछ अच्छी चीजें भी है लेकिन काफी नकारात्मकता है। मेरा काम हैं उन्हें (खिलाड़ियों को) इससे बचाना। आप ये कैसे करेंगे- मुझे नहीं पता। आप 24 घंटे उनके परिवार पर नजर नहीं रख सकते लेकिन आप उनकी मदद कर सकते हैं। खिलाड़ियों की सलामती और समर्थन हमारे लिए अहम है।”