नई दिल्ली. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा टेस्ट मैच पर्थ के नए स्टेडियम पर खेला जाना है. लेकिन, बदले कलेवर के बावजूद स्टेडियम के तेवर यानी कि उसकी पिच के मिजाज से छेड़-छाड़ नहीं की गई है. उसका मिजाज वैसा ही है, जिसके लिए वो वर्ल्ड क्रिकेट के कोने-कोने में मशहूर है. अब सवाल ये है कि ऐसी पिच पर अपने प्लेइंग XI को लेकर टीम इंडिया की स्ट्रेटजी क्या होगी. क्या भारतीय थिंक टैंक अटैकिंग मूव अपनाएगा या फिर एडिलेड की ही तरह बैलेंस टीम उतारेगा.Also Read - RCB के 92 पर ऑलआउट होते ही Deepkia Padukone का ये ट्वीट होने लगा वायरल, RR का उड़ाया था मजाक

ओपनिंग और मिडिल ऑर्डर नहीं बदलेगा Also Read - Virat Kohli कप्तान हों या न हों उनकी आक्रामकता और जुनून में कमी नहीं आएगी: Ajit Agarkar

पर्थ में टीम इंडिया की ओपनिंग को लेकर कोई सवाल या विवाद नहीं है क्योंकि इस स्लॉट पर मुरली विजय और केएल राहुल के अलावा टीम के पास कोई विकल्प नहीं है. मिडिल ऑर्डर में चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे टीम की रीढ़ बनकर खड़े रहेंगे. Also Read - मुझे नहीं लगता कि विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने के फैसले से RCB टीम को परेशानी हो रही है: ब्रायन लारा

रोहित की जगह पर जडेजा?

अब सवाल है रोहित शर्मा की जगह कौन लेगा. तो इस सवाल का जवाब इसमें छिपा है कि विराट कोहली चाहते क्या हैं. पर्थ की पेस और बाउंसी मिजाज के देखते हुए विराट दूसरे टेस्ट में 4 तेज गेंदबाजों के साथ उतकना चाहेंगे, जो कि एक अटैंकिंग मूव होगा. और, ऐसे में फिर हनुमा या जडेजा में से कोई एक ही प्लेइंग XI में खेलेगा. यानी, इस सूरत में पलड़ा जडेजा का भारी हो जाएगा.

जडेजा के खेलने की वजह ऑस्ट्रेलिया

दरअसल, ऑस्ट्रेलियाई टीम के टॉप 6 बल्लेबाजों में से 4 लेफ्ट हैंडर हैं. और SENA कंट्री में यानी कि साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में राइट हैंडर के खिलाफ जडेजा का औसत 62.09 का रहा है जबकि लेफ्ट हैंडर के खिलाफ सिर्फ 29 का है. इसके अलावा जडेजा बल्ले से भी अच्छे हाथ दिखाते हैं. इंग्लैंड दौरे पर खेले आखिरी टेस्ट में उन्होंने पहली पारी में 86 रन की नाबाद पारी खेली थी. यही नहीं टेस्ट ऑलराउंडर्स की ICC रैंकिंग में वो टॉप 3 में भी शामिल हैं. साफ है जडेजा बेहतर विकल्प होंगे.

हनुमा पर भारी जडेजा का अनुभव

वैसे, हनुमा ने भी टीम इंडिया के लिए खेले एकमात्र टेस्ट से काफी प्रभावित किया है. इंग्लैंड के खिलाफ ओवल टेस्ट में उन्होंने अर्धशतक जड़ने के अलावा 3 विकेट चटकाए थे, जिसमें 2 विकेट लेफ्ट हैंडर के ही थे. लेकिन, इसके बावजूद जडेजा का अनुभव पर्थ में हनुमा पर भारी पड़ता दिखेगा.

4 तेज गेंदबाजों के साथ होगा अटैक

टीम इंडिया के प्लेइंग XI में विकेटकीपर के तौर पर रिषभ पंत का खेलना तय है. इसके बाद 4 तेज गेंदबाजों में ईशांत, शमी, बुमराह तो होंगे ही एक और नाम भुवनेश्वर कुमार का शामिल होगा, जो अश्विन की जगह लेंगे. साफ है पर्थ टेस्ट में टीम इंडिया एडिलेड की तरह बैलेंस न होकर अटैकिंग मूव के साथ मैदान में उतरना चाहेंगी.

टीम इंडिया का संभावित प्लेइंग XI: मुरली विजय, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, रिषभ पंत, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह