नई दिल्ली| भारत के टेस्ट उपकप्तान अजिंक्य रहाणे को यकीन है कि पांच जनवरी से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुरू हो रही श्रृंखला के दौरान सीनियर स्पिनरों आर अश्विन और रविंद्र जडेजा अपनी शैली में मेजबान पिचों के अनुरूप बदलाव करने में कामयाब होंगे.

रहाणे ने ‘इंडिया टुडे’ चैनल से कहा कि मेरा मानना है कि अश्विन और जडेजा दोनों सिर्फ भारत में नहीं बल्कि विदेश में भी अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं. भारत में एक खास अंदाज में गेंदबाजी करनी होती है और अगर मोईन अली, नाथन लियोन जैसे स्पिनरों को देखें जो अगर इंग्लैंड या आस्ट्रेलिया में गेंदबाजी कर रहे हैं तो उन्हें अलग शैली में गेंदबाजी करनी होती है.

उन्होंने कहा कि अश्विन और जडेजा दोनों अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और मुझे यकीन है कि वे विदेश में भी अच्छा खेल सकते हैं. उन्हें अपनी शैली में थोड़ा बदलाव करना होगा लेकिन मेरा मानना है कि दोनों में से जो भी खेलेगा या दोनों भी खेलेंगे तो विदेश में अच्छा प्रदर्शन कर सकेंगे.  रहाणे ने विराट कोहली के साथ मिलकर टीम को तैयार करने में रवि शास्त्री के योगदान की भी सराहना की.

उन्होंने कहा कि जब टीम में रवि भाई हैं तो आप सकारात्मक सोचते हैं. वह हमेशा खुद पर भरोसा रखने और अपने खेल का मजा लेने की बात कहते हैं. जो अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रहा होता, उसकी भी रवि भाई हौसलाअफजाई करते हैं. विराट भी हर किसी के साथ खड़ा होता है. वह कहता है कि अपना स्वाभाविक खेल दिखाओ और प्रदर्शन या नतीजे की चिंता मत करो. मैं तुम्हारे साथ हूं.