बीसीसीआई अध्‍यक्ष सौरव गांगुली द्वारा एशिया कप 2020 (Asia Cup 2020) के रद्द होने की घोषणा किए जाने के एक दिन बार एशियाई क्रिकेट परिषद (ACC) का भी इस मामले में बयान आ गया है. एसीसी की तरफ से बताया गया है कि कोरोना महामारी के चलते सितंबर में होने वाले एशिया कप को जून 2021 तक स्थगित कर दिया गया है. Also Read - Happy Birthday Virender Sehwag: टेस्ट क्रिकेट में 2 ट्रिपल सेंचुरी जड़ने वाले इकलौते भारतीय हैं 'नजफगढ़ के नवाब', यहां देखें उनके कुछ चुनिंदा रिकॉर्डस

इस फैसले से इंडियन प्रीमियर लीग के लिये रास्ता साफ होता नजर आ रहा है. सितंबर से नवंबर तक कराने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि टी20 विश्व कप के भी टलने की उम्मीद है. एशिया कप के एक साल स्थगित होने के बाद अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के भी टी20 विश्व कप के स्थगित होने की घोषणा करने की उम्मीद है जिसका आयोजन अक्टूबर-नवंबर में होना है. Also Read - IPL 2020: लगातार 7वीं हार के बाद CSK के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी बोले-हमें परिणाम नहीं बल्कि...

एशियाई क्रिकेट परिषद ने ट्वीट किया, ‘‘कोविड-19 महामारी के असर पर काफी सोच विचार और मूल्यांकन के बाद एसीसी कार्यकारी बोर्ड ने एशिया कप टूर्नामेंट को स्थगित करने का फैसला किया जिसे सितंबर 2020 में आयोजित किया जाना था. एसीसी के कार्यकारी बोर्ड ने एशिया कप टूर्नामेंट पर कोविड-19 महामारी के प्रभाव का आकलन करने के लिये कई मौकों पर मुलाकात की.’’ Also Read - IPL 2020: अपने 200वें मैच को यादगार नहीं बना सके महेंद्र सिंह धोनी, IPL में 'दोहरा शतक' जड़ने वाले पहले खिलाड़ी बने

गांगुली और बीसीसीआई सचिव जय शाह एसीसी बोर्ड का हिस्सा हैं. एसीसी बोर्ड टूर्नामेंट की मेजबानी से होने वाले स्वास्थ्य जोखिम की अनदेखी नहीं कर सकता था.

विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘बोर्ड शुरू से ही निर्धारित समय पर टूर्नामेंट की मेजबानी करने को प्रतिबद्ध था. लेकिन यात्रा संबंधित बाधाओं, देशों में लगी विशेष पृथकवास की जरूरतें, स्वास्थ्य संबंधित जोखिम और सामाजिक दूरी के अनिवार्य नियमों ने एशिया कप की मेजबानी पर काफी चुनौतियां पेश कीं. ’’

बताया जा रहा है कि श्रीलंका क्रिकेट अब जून 2021 में स्थगित हुए एशिया कप की मेजबानी करेगा जबकि पीसीबी 2022 चरण का मेजबान होगा.