नई दिल्ली.  बांग्लादेश के आलराउंडर शाकिब अल हसन बायें हाथ की उंगली में चोट की वजह से भारत के खिलाफ शुक्रवार को एशिया कप  का फाइनल नहीं खेल पाएंगे. वह पाकिस्तान के खिलाफ सुपर चार के अंतिम मैच में भी नहीं खेल पाये थे जो कि ‘वास्तविक सेमीफाइनल’ जैसा था. बांग्लादेश ने यह मैच 37 रन से जीता. पहली बार एशिया कप जीतने की कवायद में लगे बांग्लादेश के लिये यह करारा झटका है क्योंकि वह पहले ही सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल को गंवा चुका है. पहले मैच के दौरान तमीम के बायें हाथ में फ्रैक्चर हो गया था.

10 महीने पुरानी चोट ने दिया ‘दर्द’

शाकिब की उंगली इस साल जनवरी में चोटिल हो गयी थी जो एशिया कप के दौरान बढ़ गयी. बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के अनुसार वह चार से छह सप्ताह तक बाहर रहेंगे और जिम्बाब्वे के खिलाफ सीरीज भी नहीं खेल पाएंगे. उन्हें जल्द ही मेलबर्न में आपरेशन करवाना पड़ सकता है.

देश के लिए दर्द में भी खेले शाकिब

बीसीबी के क्रिकेट संचालन प्रमुख अकरम खान ने कहा, ‘‘पिछले कुछ दिनों में उनकी उंगली का दर्द बढ़ गया था. मैं शाकिब का आभार व्यक्त करता हूं कि वह दर्द के बावजूद चार मैचों में खेले.’’ शाकिब का एशिया कप में खेलना संदिग्ध था क्योंकि वह उंगली का आपरेशन करवाना चाहते थे लेकिन बोर्ड उन्हें एशिया कप की टीम में चाहता था. इस बीच तमीम भी लंदन जाकर पता करेंगे कि उन्हें आपरेशन की जरूरत है या नहीं। उनका भी जिम्बाब्वे के खिलाफ श्रृंखला में खेलना संदिग्ध है.