नई दिल्ली. वो कहावत तो आपने सुनी ही होगी, सौ सुनार की तो एक लोहार की. बांग्लादेश भी पाकिस्तान के लिए उसी लोहार की तरह है, जिसने फाइनल के मजबूत दावेदार माने जा रहे पाकिस्तान को एक ही झटके में टूर्नामेंट से बाहर कर दिया. बांग्लादेश ने पाकिस्तान को जीत के लिए 240 रन का लक्ष्य दिया था, जिसका पीछा करते हुए पाकिस्तान की टीम 9 विकेट खोकर सिर्फ 202 रन ही बना सकी और 37 रन से मुकाबला हार गई.

अब तक 4…

ये वनडे क्रिकेट में बांग्लादेश की पाकिस्तान के खिलाफ लगातार चौथी जीत है. जबकि इन 4 मुकाबलों से पहले जीत का सिलसिला पाकिस्तान के हक में था. पाकिस्तान ने तब बांग्लादेश पर लगातार 25 वनडे जीत दर्ज की थी. कमाल की बात ये है कि पाकिस्तान से खेले पिछले चारों वनडे बांग्लादेश ने साल 2015 के बाद जीते हैं. दूसरे लहजे में कहें तो 2015 के बाद बांग्लादेश वनडे में पाकिस्तान से हारा ही नहीं है.

PAKvsBAN: बांग्लादेश के ‘M’ बोले तो… पाकिस्तान की हार

2012 के बाद दिखा ऐसा

साल 2018 में ये तीसरी बार है जब कोई टीम 250 से कम के टोटल का पीछा करते हुए ऑल आउट हुए बगैर मुकाबला हारी है. एशिया कप में ऐसा साल 2012 में बांग्लादेश और पाकिस्तान के बीच खेले फाइनल मुकाबले में ही आखिरी बार देखने को मिला था.

भारत-पाक पर भारी बांग्लादेश

पाकिस्तान पर 37 रन की जीत के बाद बांग्लादेश को एशिया कप 2018 के फाइनल में भारत से भिड़ने का लाइसेंस मिल गया. ये एशिया कप के पिछले 4 आयोजनों में उसका तीसरा फाइनल होगा, जो कि किसी भी टीम के मुकाबले ज्यादा है. बांग्लादेश के बाद भारत और पाकिस्तान ने 2-2 बार फाइनल में जगह बनाई है.