अनुभवी तेजस्विनी सावंत (Tejaswini Sawant) ने भारत को निशानेबाजी में 12वां ओलंपिक कोटा दिलाया लेकिन वो शनिवार को 14वीं एशियाई चैम्पियनशिप (Asian Championship) की महिला 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन स्पर्धा में पदक हासिल करने से चूक गई। पूर्व विश्व चैंपियन तेजस्विनी ने 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन के फाइनल में पहुंचकर अगले साल होने वाले ओलंपिक खेलों का कोटा हासिल किया।

तेजस्विनी (39 साल) 12 शॉट के क्वालीफिकेशन में 1171 अंक के स्कोर से पांचवें स्थान पर रहकर फाइनल में पहुंची जिसमें प्रोन, स्टैडिंग और नीलिंग थ्री पोजिशन का स्कोर शामिल था। फाइनल में हालांकि उन्होंने पूरी कोशिश की लेकिन उन्हें 435.8 अंक के स्कोर से चौथे स्थान से संतुष्ट होना पड़ा।

दूसरी सीरीज में वो तीसरे स्थान पर चल रही थी पर 8.8 के निशाने से वो पिछड़ गयीं। अगर उन्हें अगले साल तोक्यो ओलंपिक की टीम में चुना जाता है तो वो अपने पहले ओलंपिक में भाग लेंगी क्योंकि वो इससे पहले 2008, 2012 और 2016 में टीम में जगह बनाने से चूक चुकी हैं।

भारत ने हालांकि दिन में सभी स्पर्धाओं में नौ पदक जीते जिसमें तीन और स्वर्ण पदक शामिल रहे। हालांकि तेजस्विनी व्यक्तिगत पदक नहीं जीत सकीं लेकिन उन्होंने काजल सैनी और गायत्री नित्यनंदम के साथ मिलकर टीम कांस्य पदक प्राप्त किया।

तेजस्विनी 50 मीटर राइफल प्रोन में भी भाग लेती हैं, उन्होंने कई पदक जीते हैं जिसमें विश्व चैम्पियनशिप, विश्व कप और राष्ट्रमंडल खेलों में पदक शामिल हैं। वो 2010 में म्यूनिख में 50 मीटर राइफल प्रोन स्पर्धा में विश्व रिकार्ड स्कोर की बराबरी के साथ विश्व चैम्पियन बनी थी। वो विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली महिला निशानेबाज थी।

चीन की मेंगयाओ शि ने 457.9 अंक के साथ स्वर्ण पदक जबकि मंगोलिया की येसुगेन ओयुनबात (457.0) ने रजत पदक हासिल किया। कांस्य पदक जापान की शिरोरी हिराता (445.9) ने जीता और साथ ही दूसरा उपलब्ध कोटा भी हासिल किया। तीसरा कोटा थाईलैंड की चोटफिबुनसिन थानयालक ने प्राप्त किया जो क्वालीफिकेशन में 1168 अंक से नौंवे स्थान पर थीं।

अन्य भारतीयों में काजल सैनी और गायत्री नित्यानंदम क्रमश: 13वें और 16वें स्थान पर रहीं। एमक्यूएस वर्ग में सुनिधि चौहान ने 1164 अंक जुटाए। भारत ने शॉटगन में भी कोटा हासिल करने की मुहिम जारी रखी जिसमें पुरुष स्कीट टीम पहले दिन के क्वालीफिकेशन के बाद दौड़ में बनी हुई है।

संयुक्त विश्व रिकार्डधारी अंगद बाजवा 75 में से केवल एक बर्ड चूक गये जबकि ओलंपियन मेराज अहमद खान दो और स्मिट सिंह तीन बर्ड से चूक गए। दर्शना राठौड़ महिला स्कीट क्वालीफिकेशन के पहले दिन सर्वश्रेष्ठ स्थान पर काबिज भारतीय रहीं, वह 69 के स्कोर से 12वें स्थान पर हैं जबकि गनेमत शेखां (66) 17वें और सानिया शेख (65) 18वें स्थान पर हैं।

पुरुषों की 25 मीटर सेंटर फायर पिस्टल स्पर्धा में गुरप्रीत सिंह ने 586 अंक के स्कोर से व्यक्तिगत रजत पदक जीता। उन्होंने योगेश सिंह और आदर्श सिंह के साथ मिलकर 1730 अंक से टीम कांस्य पदक हासिल किया।