नई दिल्ली : एशियाई फुटबॉल परिसंघ (एएफसी) ने अगले साल एएफसी एशिया कप में अतिरिक्त समय के दौरान चौथे सब्सटिट्यूट के इस्तेमाल की अनुमति दे दी है. हालांकि, इस चौथे सब्सटिट्यूट का इस्तेमाल टूर्नामेंट के नॉक-आउट मैचों में हो पाएगा.

एएफएसी ने अपने एक बयान में कहा कि अंतर्राष्ट्रीय फुटबॉल महासंघ बोर्ड (आईएफएबी) द्वारा की गई घोषणा के अनुसार, एएफसी की कार्यकारी समिति ने शुक्रवार को एएफसी की राष्ट्रीय टीम प्रतियोगिताओं को गेम के नियमों (एलओटीजी) में नवीनतम संशोधन को शामिल करने की सिफारिश को मंजूरी दे दी.

एक समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, इस नए नियम के तहत एक मैच में 90 मिनट के समय के बाद अतिरिक्त समय में चौथे सब्सटिट्यूट का इस्तेमाल किया जा सकेगा. हालांकि, यह नियम नॉक-आउट मैचों में ही लागू हो पाएगा.

INDvsWI: स्टेडियम के अंदर बने मंदिर ने बदली टीम इंडिया की ‘किस्मत’

एएफसी अध्यक्ष शेख सलमान बिन इब्राहिम अल-खलीफा ने कहा, “मैं आश्वस्त हूं कि यह नया नियम एशिया की मुख्य राष्ट्रीय टीम प्रतियोगिता के उत्साह को बढाएगा.”

अगले साल पांच जनवरी से एक फरवरी तक संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले एएफसी एशिया कप टूर्नामेंट के अलावा, इस नियम को आगामी अंडर-19 एएफसी चैम्पियनशिप, एएफसी अंडर-19 महिला चैम्पियनशिप-2019 और एएफसी अंडर-23 चैम्पियनशिप-2020 में भी इस्तेमाल किया जाएगा.

इसके साथ ही एएफसी प्रतियोगिता समिति ने अगले साल एएफसी कप और एएफसी चैम्पियंस लीग में भी चौथे सब्सटिट्यूट को अतिरिक्त समय में इस्तेमाल करने की अनुमति दे दी है.