राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के निदेशक राहुल द्रविड़ की देखरेख में 16 राष्ट्रमंडल देशों के लड़कों और लड़कियों के लिये प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया जा रहा है जिसका आयोजन बीसीसीआई विदेश और खेल मंत्रालय के सहयोग से कर रहा है.

पढ़ें:- सहवाग ने अनिल कुंबले के साथ इस ‘हरकत’ के लिए जताया अफसोस, बड़ा मजेदार है ये मामला

लंदन में 19 अप्रैल 2018 को राष्ट्रमंडल देशों के प्रमुखों की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की थी कि भारत 16 साल से कम उम्र के लड़कों और लड़कियों के लिये प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाएगा और उन्हें एनसीए में भारत के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटरों के साथ अभ्यास करने का मौका देगा.

एनसीए में अभी बोत्सवाना, कैमरून, कीनिया, मोजाम्बिक, मॉरीशस, नामीबिया, नाइजीरिया, रवांडा, युगांडा, जाम्बिया, मलेशिया, सिंगापुर, जमैका, त्रिनिदाद एवं टोबैगो, फिजी और तंजानिया के युवा खिलाड़ी (18 लड़के और 17 लड़कियां) प्रशिक्षण ले रहे हैं.

पढ़ें:- दक्षिण अफ्रीका को तगड़ा झटका, ओपनर एडेन मार्करम चोट के कारण तीसरे टेस्ट से बाहर

बीसीसीआई की विज्ञप्ति के अनुसार यह एक महीने का शिविर एनसीए बेंगलुरू में एक अक्टूबर से शुरू हुआ और इसे 30 अक्टूबर तक चलाया जाएगा. यहां एनसीए के क्रिकेट प्रमुख राहुल द्रविड़ की देखरेख में देश के सर्वश्रेष्ठ कोच उन्हें प्रशिक्षण दे रहे हैं.

इन खिलाड़ियों को होटल आवास, क्रिकेट किट, पोषक तत्व, अन्य सुविधाएं और भत्ते प्रदान किये गये हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि उनका प्रवास आरामदायक और फलदायी रहे.