नई दिल्ली: इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन में जूझ रही मौजूदा विजेता एटीके आज केरला ब्लास्टर्स से अपने घर साल्ट लेक स्टेडियम में आमने-सामने होगी. एटीके के अंतिरम कोच एशेल वेस्टवुड ने टेडी शेरिंघम के जाने के बाद से जब से कार्यभार संभाला है तब से वह अपने सभी तीनों मैच हार गई है, लेकिन बेंगलुरू एफसी के पूर्व कोच का मानना है कि उनकी टीम के पास आंकड़ों के लिहाज से अभी भी शीर्ष-4 में जाने का मौका है. Also Read - ATK-मोहन बागान के सह मालिक सौरव गांगुली डायरेक्टर के रूप में नामित

Also Read - सचिन तेंदुलकर से प्रेरणा लेते हैं भारतीय फुटबॉलर संदेश झिंगन

वेस्टवुड के मुताबिक अगर उनकी टीम अपने बाकी के बचे सभी मैच जीतती है तो वह 27 अंकों पर पहुंच जाएगी और ऐसे में उनकी शीर्ष- 4 में जाने की संभावना होगी. साल्ट लेक स्टेडियम में होने वाले अगले मुकाबले में वेस्टवुड को अपने तीन स्टार खिलाड़ियों के बिना उतरना होगा. मौजूदा विजेता केरला के खिलाफ रोबी कीन, पुर्तगाल के मिडफील्डर जेक्विंहा और वेल्स के मिडफील्डर डेविड कोरेरिल के बिना उतरेगी. Also Read - ISL 2019-20 FINAL: तीसरी बार ISL खिताब जीतने वाला पहला क्लब बना ATK, मिला एएफसी कप का टिकट

केपटाउन में रिकॉर्डतोड़ शतक के पीछे विराट का ‘DSP’ फॉर्मूला !

उन्होंने कहा कि खिलाड़ी आईएसएल के अगले सीजन का हिस्सा बनने के लिए उतावले हैं. एटीके ने अपना पिछला मैच बेंगलुरू एफसी के खिलाफ खेला था और बेंगलुरू ने 10 खिलाड़ी के साथ खेलते हुए एटीके को मात दी थी.

केरला की टीम भी उसके लिए काफी खतरनाक है. खासकर तब जब उसके प्लेऑफ में जाने की संभावना बढ़ गई है. उसने लगातार दो जीत हासिल करते हुए अपने आप को रेस में बनाए रखा है. उसने एफसी पुणे सिटी के खिलाफ अपने आखिरी मैच में सीके विनीत के गोल के दम पर अंतिम पलों में जीत हासिल की थी. केरला की टीम 14 मैचों में 20 अंकों के साथ छठे स्थान पर बनी हुई है. उसे आगे चार मैच और खेलने हैं.

साउथ अफ्रीका के खिलाफ ‘कलाई’ ने की भलाई, टीम इंडिया को मिला जीत का ‘डबल डोज’

डेविड जेम्स ने सीजन के मध्य में टीम का कार्यभार संभाला है. टीम ने आखिरी के सात मैचों में 13 अंक हासिल किए हैं. पूर्व कोच रेने मेयुलेंस्टीन के मार्गदर्शन में केरला ने अपने पहले सात मैचों में सात अंक लिए थे.

केरला की टीम इस मैच में कप्तान संदेश झिंगान के बिना उतरेगी जिन्हें चार येलो कार्ड मिलने के बाद एक मैच के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है. कोच के मुताबिक वह चोट के कारण अपने कुछ और स्टार खिलाड़ियों को खो सकती है. वह आयोजकों से इस बात की पुष्टि का इंतजार कर रही है कि क्या वह चोटिल विदेशी खिलाड़ियों के स्थान पर भारतीय खिलाड़ी उतार सकती है. उनकी इस बात से अंदेशा है कि पिछले मैच में घुटने में चोट खाने वाले इयान ह्यूम इस मैच में नहीं खेलेंगे और हो सकता है कि वह पूरे सीजन से भी बाहर हो गए हों.