नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) एटीपी फाइनल्स में रोजर फेडरर (Roger Federer) के रिकार्ड छह खिताब की बराबरी करके और राफेल नडाल (Rafael Nadal) को नंबर एक रैंकिंग से हटाकर इस सीजन का शानदार अंत कर सकते हैं।

जर्मनी के अलेक्सांद्र जेवरेव ने पिछले साल एटीपी फाइनल्स के खिताबी मुकाबले में जोकोविच को हरा दिया था लेकिन ये सर्बियाई टेनिस दिग्गज इस साल खिताब के प्रबल दावेदार के रूप में शुरुआत करेगा। जोकोविच और नडाल ने मिलकर इस साल के चारों ग्रैंडस्लैम जीते और अगली पीढ़ी को अपनी बादशाहत नहीं जमाने दी।

नडाल ने अब तक एटीपी फाइनल्स का खिताब नहीं जीता है लेकिन उन्होंने अपने पुराने प्रतिद्वंद्वी को इस सप्ताह नंबर एक रैंकिंग से हटा दिया था और वो उम्मीद कर रहे हैं कि साल के आखिर में भी वो शीर्ष पर काबिज रहेंगे। टूर्नामेंट से पहले हालांकि चोट उनके लिए परेशानी का सबब बनी है।

फेडरर, नडाल और जोकोविच को शीर्ष वरीयता दी गई है और वो 2007 के बाद पहली बार एक साथ एटीपी फाइनल्स में खेलेंगे। बारह साल बाद भी पुरुष टेनिस के शीर्ष खिलाड़ियों में कोई खास बदलाव नहीं हुआ है हालांकि उन्हें रूस के डेनिल मेदवेदेव से सतर्क रहना होगा जिन्होंने अगस्त के बाद दो मास्टर्स खिताब जीते हैं और नडाल को यूएस ओपन फाइनल में पांच सेट तक संघर्ष करवाया था।

एटीपी फाइनल्स में शीर्ष आठ खिलाड़ी भाग लेते हैं। इन चारों के अलावा इस बार ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थीम, यूनान के स्टेफेनोस सिटिसिपास, जर्मनी के जेवरेव और इटली के मैटियो बेरेटिनी टूर्नामेंट में हिस्सा लेंगे।

नडाल पांचवीं बार साल के आखिर में नंबर एक रैंकिंग हासिल करने की कोशिश करेंगे। वो अभी जोकोविच से 640 अंक आगे हैं। उनकी पेट की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया है लेकिन वो टूर्नामेंट में खेलने के लिए प्रतिबद्ध हैं। पिछले साल भी वो चोटिल होने के कारण इस टूर्नामेंट में नहीं खेल पाए थे।

नडाल को आंद्रे अगासी ग्रुप में रखा गया है जहां उनके प्रतिद्वंद्वी मेदवेदेव, सिटिसिपास और जेवरेव होंगे। जोकोविच, फेडरर, थीम और बेरेटिनी को ब्योर्न बोर्ग ग्रुप में रखा गया है।

जोकोविच ने 2012 से 2015 तक लगातार चार साल खिताब जीता था लेकिन पिछले तीन सालों में दो बार उन्हें फाइनल में हार का सामना करना पड़ा। फेडरर ने 2011 के बाद से एटीपी फाइनल्स नहीं जीता है।