मेलबर्न: खराब फॉर्म से जूझ रहे ऑस्‍ट्रेलियाई वनडे टीम के कप्‍तान आरोन फिंच भारत के खिलाफ तीसरे वनडे में नई रणनीति के साथ मैदान पर उतरेंगे. सीरीज के पहले दो मैचों में उन्‍होंने टिककर बल्‍लेबाजी करने की कोशिश की, लेकिन सफल नहीं रहे. अब उन्‍होंने कहा है कि शुक्रवार को वे अपने स्‍वाभाविक आक्रामक अंदाज में बल्‍लेबाजी करेंगे.

रक्षात्मक बल्लेबाजी से आजिज आ चुके ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच ने गुरुवार को कहा कि वह भारत के खिलाफ तीसरे और आखिरी वनडे मैच में स्वाभाविक आक्रामक खेल दिखाएंगे. लंबे समय से खराब फॉर्म में चल रहे फिंच की लगातार आलोचना हो रही है. पहले दो वनडे में वह 12 रन ही बना सके हैं. अंदर आती हुई गेंदों को खेलने की उनकी कमजोरी के चलते भुवनेश्‍वर कुमार पहले दोनों मैचों में उन्‍हें सस्‍ते में पवेलियन भेजने में सफल रहे हैं.

पांड्या-राहुल को दोबारा मौका देने के पक्ष में हैं सौरव गांगुली, कहा- गलतियां सबसे होती हैं

फिंच ने तीसरे और आखिरी मैच से पहले कहा, ‘‘मैं हताश हूं. मैं लंबी पारी खेलने की कोशिश कर रहा हूं. रन की तलाश में आपको रन बनाने का सही तरीका भी आना चाहिए. मैंने पिछले दो मैचों के फुटेज देखे हैं. मुझे पता चल गया है कि ऑस्ट्रेलिया के लिए आखिरी बार शतक जमाने के समय और इन पारियों में क्या फर्क था.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं खुद को सर्वश्रेष्ठ मौका देना चाहता हूं. पिछले दो मैचों में ऐसा नहीं कर सका.’’

मेलबर्न में धोनी की कप्तानी में भारत ने जीता था आखिरी वनडे, पढ़ें क्यों ‘बैकफुट’ पर है टीम

टेस्ट सीरीज की की छह पारियों में भी फिंच ने 97 रन ही बनाए थे और आखिरी मैच में उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था. उन्होंने स्वीकार किया कि पिछले कुछ दिन में उन्होंने खुद को बार बार यह याद दिलाया है कि वह अभी भी शानदार खिलाड़ी हैं. उन्होंने कहा, ‘‘आक्रामक खेलने और बस क्रीज पर बने रहने के बीच बैलेंस जरूरी होता है. सही समय पर आक्रामक होकर खेलने की जरूरत है. मेरे 13 अंतरराष्ट्रीय शतक इस बात का सबूत हैं कि मैं अच्छा खिलाड़ी हूं. मुझे अपना स्वाभाविक खेल दिखाना होगा.’’

मेलबर्न में जीती टीम इंडिया तो बनेगा इतिहास, कोहली की कप्तानी में पहली बार होगा ऐसा

फिंच ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम आखिरी वनडे और सीरीज जीतने को बेताब है. उन्होंने कहा, ‘‘हमारा सामना भारत जैसी मजबूत टीम से है और हमने अच्छी बल्लेबाजी की है. पिछले आठ-दस महीने में बल्लेबाजी में काफी सुधार आया है और हम गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की वजह से सीरीज में बराबरी पर हैं.’’