सिडनी: ऑस्ट्रेलिया में पहली टेस्ट सीरीज जीतने के बाद टीम इंडिया अब वनडे सीरीज के लिए तैयार हो रही है. वनडे टीम में शामिल खिलाडि़यों ने बुधवार को एससीजी की पिच पर जमकर पसीना बहाया, जिसमें अनुभवी एमएस धोनी भी शामिल हैं.

वनडे विश्व कप 2019 को देखते हुए अब टीम का सारा ध्यान ब्‍हाइट बॉल क्रिकेट पर है. मंगलवार को ही वनडे टीम में शामिल किए गए सभी खिलाड़ी टीम के साथ जुड़ गए. इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप से पहले काफी वनडे खेले जाने हैं जिसमें ऑस्ट्रेलिया में तीन वनडे और न्यूजीलैंड में पांच वनडे के अलावा एक तीन मैचों की टी20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज भी शामिल है. ऑस्ट्रेलियाई टीम फिर पांच वनडे और दो टी20 अंतरराष्ट्रीय के लिये 23 मार्च से शुरू होने वाले 2019 इंडियन प्रीमियर लीग सीजन से पहले भारत के दौरे पर आएगी.

धोनी सहित सफेद गेंद के विशेषज्ञ शिखर धवन, रोहित शर्मा, अम्बाती रायुडू, केदार जाधव, युजवेंद्र चहल, दिनेश कार्तिक और खलील अहमद यहां भारतीय टीम के साथ जुड़ गए हैं. बुधवार को यहां पहुंचे खिलाड़ियों में से चार सदस्यों ने एससीजी पर ट्रेनिंग की. धोनी, धवन, जाधव और रायुडू ने शनिवार को सिडनी में होने वाले पहले वनडे से पहले मैदान पर जमकर पसीना बहाया.

VIDEO: न गेंद बल्ले को छुई, न जाया हुई … लास्ट बॉल पर थी 6 रन की दरकार और हो गया ‘चमत्कार’

हालांकि गुरुवार को तैयारियां जोर पकड़ेंगी जब पूरी टीम नवंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू सीरीज के बाद एक साथ पहले ट्रेनिंग सत्र में हिस्सा लेगी. इस चौकड़ी ने पहले थ्रोडाउन किया क्योंकि इस वैकल्पिक सत्र में टीम का कोई विशेषज्ञ गेंदबाज मौजूद नहीं था. धवन और रायुडू ने दायें और बायें थ्रोडाउन से ट्रेनिंग की जबकि धोनी ने इंडोर नेट में सहायक कोच संजय बांगड़ के साथ अभ्यास किया. जाधव ने दो नेट पर अभ्यास किया.

भारतीयों को म्यूजिकल क्रिकेट खेलते देख ऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंड के कमेंटेटर ‘दंग’, ट्विटर पर मिली वाहवाही

वहीं, ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज डर्क नानेस ने जसप्रीत बुमराह के सीमित ओवर से टेस्ट क्रिकेट में गेंदबाजी करने की तारीफ की और वो भी लय और फिटनेस में बिना किसी परेशानी के. नानेस ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि जब आपके पास कौशल हो तो सफेद गेंद से टेस्ट क्रिकेट में खेलना आसान होता है और उसमें निश्चित रूप से यह कौशल है. लेकिन चुनौती ऐसा निरंतर करने की है- एक ही समय में एक ही स्पॉट पर हिट करना. वह ऐसा शानदार तरीके से करता है.’’

टीम इंडिया अगर अगले आठ वनडे मैच जीत ले तो मिल सकती है ये बड़ी उपलब्धि

विश्व कप से पहले गेंदबाजी के बोझ से निपटने के लिये सभी तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय और चार टेस्ट में खेलने के बाद बुमराह को ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे और टी20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज के लिए आराम दिया गया है.