मेलबर्न: जसप्रीत बुमराह पूरे ऑस्ट्रेलिया में छा गए हैं. टीम इंडिया का यह तेज गेंदबाज ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के लिए कहर बना हुआ है. खास बात यह है कि स्पोर्टी नेशन के रूप में मशहूर ऑस्ट्रेलिया के लोग भी उनकी तारीफ कर रहे हैं. ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने जसप्रीत बुमराह की तारीफ करते हुए कहा कि वह तीनों प्रारूपों में जल्दी ही दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज बनेगा.

बुमराह ने मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर तीसरे टेस्ट की पहली पारी में 33 रन देकर छह विकेट लिए जिसकी बदौलत भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में 151 रन पर आउट कर दिया. क्लार्क ने मैच का प्रसारण कर रही टीवी नेटवर्क से कहा ,‘‘ बुमराह के साथ खेलना और उसका कप्तान होना दिलचस्प होगा. उस पर दबाव या अपेक्षाओं का असर नहीं पड़ता. वह सीखना चाहता है और बहुत मेहनती है. वह जल्दी ही दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज बनेगा.’’ उन्होंने कहा,‘‘ अगले कुछ महीनों में बुमराह तीनों फॉर्मेट में दुनिया का नंबर एक गेंदबाज बनेगा.’’

मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन नहीं खिलाने का फैसला गलती नहीं, विराट की स्ट्रैट्जी है

इसी साल जनवरी में अपना पहला टेस्ट खेलने वाले बुमराह ने इस साल 9 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें 45 विकेट लिए हैं. विकेटों की संख्या के लिहाज से वे भारत के नंबर एक तेज गेंदबाज हैं. यह उनके लिए किसी उपलब्धि से कम नहीं है क्योंकि एक साल पहले तक उन्हें केवल वनडे और टी20 फॉर्मेट का विशेषज्ञ माना जाता था. लेकिन टेस्ट मैचों में मौका मिलने के एक साल के अंदर ही वे टीम के मुख्य गेंदबाज बन चुके हैं. मौजूदा ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी उनके नाम अब तक 17 विकेट हैं और नाथन लियोन के साथ वे संयुक्त रूप से शीर्ष स्थान पर हैं.

पैट कमिंस की अपनी टीम के बल्लेबाजों को सलाह, जीतना है तो कोहली-पुजारा की तरह बैटिंग करो

पहले आईपीएल और फिर घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छे प्रदर्शन के बाद बुमराह ने भारत के लिए पहला वनडे मैच 23 जनवरी, 2016 को खेला था. इसके तीन दिन बाद उन्होंने अंतरराष्ट्रीय टी20 क्रिकेट में डेब्यू किया. उन्होंने अब तक 44 वनडे मैच खेले हैं जिसमें 78 विकेट लिए हैं. 40 टी20 मैचों में उनके नाम पर 48 विकेट दर्ज हैं.

 

इनपुट:एजेंसी