सिडनी: ऑस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर ने गुरुवार को कहा कि उन्होंने किसी बल्लेबाज में भारत के टेस्ट स्टार चेतेश्वर पुजारा की तरह की एकाग्रता नहीं देखी. लैंगर का मानना है कि पुजारा इस मामले में महान सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ से भी आगे हैं. Also Read - 'वनडे-टी20 में ऑस्ट्रेलिया को हराना आसान लेकिन टेस्ट में जीत के लिए ख्यालों से बाहर आए टीम इंडिया'

Also Read - Kapil Dev ODI-XI : धोनी करेंगे कप्‍तानी, सचिन-सहवाग पर ओपनिंग की जिम्‍मेदारी, ये बड़े नाम नदारद

पुजारा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज में मिली 2-1 की जीत के दौरान मैन ऑफ द सीरीज रहे. इस सीरीज में उन्‍होंने तीन शतकों के साथ 521 रन बनाए. आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर भारत की पहली टेस्ट सीरीज में जीत के बाद पहली बार बोलते हुए लैंगर ने कहा कि पुजारा की एकाग्रता उनके गेंदबाजों के लिए एक चुनौती थी. Also Read - IPL में बैटिंग सलाहकार की भूमिका निभाना चाहते हैं विनोद कांबली, कहा-युवाओं का कर सकता हूं मार्गदर्शन

लैंगर ने कहा, ‘‘मैंने ऐसा बल्लेबाज नहीं देखा जो गेंद को इतनी करीब से देखे जैसा पुजारा करता है और इसमें सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ भी शामिल हैं. उसका ध्यानचित्त होना हमारे लिए चुनौती थी. हमें उसकी तरह बेहतर होते रहना होगा, हमारे सभी बल्लेबाजों और गेंदबाजों को.’’ लैंगर ने कहा कि उनके गेंदबाजों ने टेस्ट सीरीज में गेंदबाजी करने में सब कुछ झोंक दिया, विशेषकर मेलबर्न और सिडनी में.

सहवाग से मेरी तुलना…अरे नहीं, उनकी उपलब्धियों का आधा भी हासिल कर लिया तो बड़ी बात- बोले मयंक अग्रवाल

शनिवार से शुरू होने वाली वनडे सीरीज से पहले लेंगर ने कहा, ‘‘हमारे खिलाड़ी काफी मेहनत कर रहे थे और वे ठीक प्रदर्शन कर रहे हैं. मेलबर्न और सिडनी में पहली पारी में, ईमानदारी से कहूं तो उन्होंने हमें परेशान कर दिया क्योंकि जब आप दो दिन तक मैदान में होते हो और वो भी एक स्पिन गेंदबाज के साथ, तो इससे ग्रुप की सारी ऊर्जा खत्म हो जाती है.’’

विज्ञापन की दुनिया में भी जारी है कोहली का ‘विराट’ जलवा, कमाई के मामले में लगातार दूसरे साल शीर्ष पर

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास सर्वश्रेष्ठ स्पिनर और तीन बेहतरीन तेज गेंदबाज हैं जो लाजवाब चेतेश्वर पुजारा और विराट कोहली के खिलाफ गेंदबाजी कर रहे थे. इससे आपकी मानसिक और शारीरिक ऊर्जा खत्म होती ही है.’’