नई दिल्ली. टीम इंडिया के खिलाफ पहला T20 मुकाबला जीतते ही ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट सीरीज को लेकर अपने पत्ते भी खोल दिए हैं. T20 सीरीज के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारत के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए अपनी 14 सदस्यीय टेस्ट टीम का ऐलान कर दिया है. हालांकि, टीम का ऐलान अभी पहले 2 टेस्ट के लिए हुआ है, जिसमें अनुभवी खिलाड़ियों के साथ साथ नए चेहरों को भी तरजीह दी गई है. Also Read - भारत दौरे को लेकर क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया में फूट, पर्थ को मेजबानी नहीं मिलने से भड़के WACA प्रमुख

भारत के खिलाफ पहले 2 टेस्ट के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम इस प्रकार है: टिम पेन (कप्तान), मार्क्स हैरिस, एरॉन फिंच, उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, ट्रेविस हेड, मिशेल मार्श, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड, नाथन लियॉन, क्रिस ट्रिमेन, पीटर सीडल, पीटर हैंड्सकॉम्ब.

ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम

टीम में मार्श ब्रदर्स और ट्रेविस हेड तो अपनी जगह बरकरार रखने में कामयाब रहे हैं इनके अलावा  लंबे अंतराल के बाद मिडिल ऑर्डर बैट्समैन पीटर हैंड्सकॉम्ब की वापसी हुई है.

नए चेहरे के तौर पर मार्क्स हैरिस को भी घरेलू क्रिकेट में उनके लगातार बेहतर प्रदर्शन का इनाम मिला है. हैरिस ने शेफील्ड शील्ड टूर्नामेंट में इस सीजन 42.05 की औसत से 1514 रन बनाए हैं. बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा भी घुटने की इंजरी से उबरते हुए टीम में वापसी करने में कामयाब रहे हैं. उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ UAE में खेली टेस्ट सीरीज में इंजरी हुई थी. ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम से ओपनर मेट रेनाशॉ को एक बार फिर से साइडलाइन कर दिया गया है.

तेज गेंदबाजी के मोर्चे पर ऑस्ट्रेलिया के पास भारतीय बल्लेबाजों का टेस्ट लेने के लिए मिशेल स्टार्क, पीटर सीडल, जोश हेजलवुड और पैट कमिंस की अनुभवी चौकड़ी होगी. इसके अलावा टीम में एक युवा तेज गेंदबाज क्रिस ट्रिमेन को भी शामिल किया गया है. तेज गेंदबाजों के अलावा नाथन लियॉन की फिरकी भी कंगारू टीम की बड़ी ताकत है.

भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज की शुरुआत 6 दिसंबर से हो रही है. पहला टेस्ट एडिलेड में खेला जाएगा जबकि दूसरा टेस्ट मैच 14 दिसंबर से पर्थ में होगा.