नई दिल्ली. मैदानी जंग के साथ रैंकिंग का रण भी टीमों के लिए महत्वपूर्ण हो जाता है. मैदान पर उनकी हार और जीत का असर ICC रैंकिंग पर भी पड़ता है. कुछ ऐसा ही भारत-ऑस्ट्रेलिया T20 सीरीज के नतीजे से भी होगा. ऑस्ट्रेलिया ने वाइजैग में खेले पहले T20 मुकाबले को जीतकर सीरीज और रैंकिंग दोनों में जो बढ़त हासिल की है, हो सकता है उसे आज वो दोनों गंवानी पड़े. भारत अगर बेंगलुरु में खेला जाने वाला दूसरा T20 मुकाबला जीत लेता है तो ऑस्ट्रेलिया की T20 रैंकिंग और सीरीज फतह करने की उसकी उम्मीदों दोनों को बड़ा धक्का लगेगा. Also Read - विराट कोहली ने मोहम्मद सिराज को किया प्रेरित, बोले- ये हालात तुम्हें मजबूत बनाएंगे

ऑस्ट्रेलिया फिलहाल नंबर 3 Also Read - IND vs AUS: पिता के इंतकाल पर बोले Mohammed Siraj, ऑस्‍ट्रेलिया में रहकर उनका ख्‍वाब पूरा करूंगा

वाइजैग में खेले पहले T20 में मिली जीत के बाद ऑस्ट्रेलिया ICC T20 रैंकिंग में 119 रेटिंग प्वाइंट के साथ तीसरे नंबर पर आ गया है. मगर इस नंबर पर मजबूती से जमे रहने के लिए उसे सीरीज जीतनी होगी और इसके लिए बेंगलुरु में आज खेला जाने वाला T20 मुकाबला उसे हर हाल में जीतना होगा. इस मुकाबले को जीतने के बाद उसके 120 प्वाइंट हो जाएंगे और उसकी नंबर 3 की पोजिशन बरकरार रहेगी. Also Read - ब्रायन लारा बोले-सूर्यकुमार यादव को ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया के साथ होना चाहिए था

आज जीता तो भारत के लिए खतरा

लेकिन, अगर ऑस्ट्रेलिया ने ऐसा कर लिया तो वो भारत के नंबर 2 पोजिशन के लिए खतरे की घंटी बजा देगा. क्योंकि, इसके बाद उसके और भारत के बीच सिर्फ 2 प्वाइंट का अंतर रह जाएगा. लिहाजा, भारत के लिए बेंगलुरु में पलटवार सिर्फ सीरीज में बराबरी को लेकर महत्वपूर्ण नहीं हो जाता बल्कि रैंकिंग में अपने ऊपर मंडराते खतरे को टालने के लिए भी जरूरी हो जाता है.

भारत जीता तो ऑस्ट्रेलिया को बड़ा धक्का

अब जरा ये समझिए कि भारत अगर ऑस्ट्रेलिया से बेंगलुरु T20 जीत लेता है तो क्या होगा. इससे फिलहाल T20 रैंकिंग में नंबर 3 काबिज ऑस्ट्रेलिया फिसलकर सीधे नंबर 5 पर आ जाएगा और उसके प्वाइंट घटकर 117 रह जाएंगे. इसके अलावा सीरीज जीतने का उसका ख्वाब तो टूटेगा ही क्योंकि 2 T20 मैचों की सीरीज फिर 1-1 से बराबरी पर छूटेगी.