डरबन: दक्षिण अफ्रीकी टीम भले ही शनिवार को यहां पहले टेस्ट के तीसरे दिन वापसी करने में सफल रही हो लेकिन वह आस्ट्रेलिया को 400 रन से ज्यादा की बढ़त बनाने से नहीं रोक सकी. खराब रोशनी के कारण खेल रोके जाने तक आस्ट्रेलिया ने नौ विकेट गंवाकर 213 रन बना लिये थे जिससे उनकी कुल बढ़त 402 रन की हो गयी. दक्षिण अफ्रीका जब शुक्रवार को धीमी पिच पर बल्लेबाजी करने उतरेगी तो उसे काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा क्योंकि बल्लेबाजों को अपने शाट खेलने में परेशानी होगी. लेकिन मेजबान टीम को शनिवार को अपने अनुशासित प्रदर्शन से राहत मिली क्योंकि आस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में शानदार शुरूआत की थी. Also Read - खत्म हुआ दो साल का बैन, फिर से ऑस्ट्रेलिया टीम के कप्तान बन सकेंगे स्टीव स्मिथ

कैमरन बैनक्रोफ्ट (53) और डेविड वार्नर (28) ने पहले विकेट के लिये 13 ओवर में 56 रन जोड़े जिससे आस्ट्रेलियाई टीम अच्छी स्थिति में थी. लंच तक आस्ट्रेलिया का स्कोर तीन विकेट पर112 रन हो गया. लेकिन लंच के बाद रन गति धीमी हो गयी और आस्ट्रेलिया ने छह और विकेट गंवा दिये और टीम इस दौरान 44.4 ओवर में केवल 101 रन ही जोड़ सकी. इसके बाद अंपायरों ने खिलाड़ियों को मैदान से बाहर जाने का इशारा किया. Also Read - बेटियों का ख्याल रखकर सेल्फ आइसोलेशन के दिन बिता रहे हैं डेविड वार्नर, नाम रखा Bulls Daycare

कागिसो रबाड़ा ने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन दुर्भाग्यशाली रहे कि उन्हें दो से ज्यादा विकेट नहीं मिले. बैनक्रोफ्ट और वार्नर ने स्पिनर केशव महाराज को नहीं बख्शा और उसके पहले ही दो ओवर में उन्होंने 20 रन जुटा लिये. लेकिन महाराज ने 28 ओवर में 93 रन देकर तीन विकेट प्राप्त किये. Also Read - दक्षिण अफ्रीकी गोल्फर लेंज कोविड-19 से संक्रमित, PGA टूर ने दी जानकारी

तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्कल ने सुबह खराब गेंदबाजी के बाद लंच और चाय के बीच में गेंदबाजी नहीं की. लेकिन वह इसके बाद गेंदबाजी के लिये उतरे और उन्होंने 42 रन देकर तीन विकेट प्राप्त किये.

बैनक्रोफ्ट ने नवंबर में ब्रिसबेन में इंग्लैंड के खिलाफ पदार्पण मैच में नाबाद 82 रन बनाये थे, तब से यह उनका पहला अर्धशतक है. आस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने भी 38 रन बनाये लेकिन वह 81 गेंद की पारी में आक्रामक नहीं हो सके. वह कामचलाऊ स्पिनर डीन एल्गर की गेंद पर पगबाधा आउट हुए. शान मार्श ने 33 रन जोड़े.