पहले पाकिस्तान और फिर न्यूजीलैंड के खिलाफ लगातार दो घरेलू टेस्ट सीरीज जीतकर ऑस्ट्रेलिया टीम आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में भारत के बेहद करीब पहुंच गई है। Also Read - New Zealand Women vs Australia Women: तीसरे वनडे में जीत हासिल कर ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को क्लीन स्वीप किया

विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम 360 अंक लेकर अंकतालिका में पहले स्थान पर काबिज हैं। वहीं न्यूजीलैंड टीम को तीन मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप पर ऑस्ट्रेलिया टीम ने 296 अंक हासिल कर दूसरे नंबर पर अपनी स्थिति मजबूत की है। Also Read - COVID19 cases: New Zealand की पीएम ने भारत से आने वाले यात्र‍ियों समेत अपने नागरिकों की भी एंट्री रोकी

भारत और ऑस्ट्रेलिया अकेली ऐसी टीमें हैं जिन्होंने टेस्ट चैंपियनशिप में 100 से ज्यादा अंक हासिल किए हैं। तीसरे और चौथे नंबर पर मौजूद पाकिस्तान और श्रीलंका टीमों के पास 80-80 अंक हैं। जबकि 0-3 से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज हारने वाली न्यूजीलैंड टीम 60 अंक लेकर पांचवें स्थान पर है। Also Read - एक बार फिर Australia की कप्तानी चाहते हैं Steve Smith

सिडनी टेस्ट के दौरान वार्नर-लाबुशाने की गलती से ऑस्ट्रेलिया पर लगा 5 रन का जुर्माना

ऑस्ट्रेलिया टीम ने मार्नस लाबुशाने के शानदार दोहरे शतक, डेविड वार्नर की शतकीय पारी और नाथन लियोन की शानदार गेंदबाजी के दम पर न्यूजीलैंड के खिलाफ सिडनी में खेला गया तीसरा और आखिरी टेस्ट 279 रन से जीता। मेजबान टीम ने पर्थ में खेला गया पहला टेस्ट 296 रन और मेलबर्न में खेला गया दूसरा मैच भी 247 रन के बड़े अंतर से जीता था।

सफल घरेलू सीजन खत्म करने के बाद ऑस्ट्रेलिया टीम के 14 जनवरी से भारत का दौरा करना है। हालांकि भारत दौरे पर कंगारू टीम को वनडे सीरीज खेलनी है। हालांकि इसी साल अक्टूबर में भारतीय टीम चार मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाएगी, जहां टेस्ट क्रिकेट की इस दो शीर्ष टीमों की टक्कर देखने को मिलेगी। हालांकि दौरे का पूरा शेड्यूल निश्चित नहीं हुआ है लेकिन इसके अक्टूबर 2020 से जनवरी 2021 तक चलने की संभावना है।

शेन वार्न ने ऑनलाइन नीलामी पर लगाई Test Cap, पहले दो घंटे में ही लगी हैरान कर देने वाली बोली

वैसे तो भारतीय टीम ने पिछले साल ऑस्ट्रेलिया दौरे पर चार मैचों की टेस्ट सीरीज 2-1 से जीती थी लेकिन उस समय कंगारू टीम में स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर नहीं थे। साथ ही ऑस्ट्रेलिया के युवा बल्लेबाज मार्नस लाबुशाने, जिन्होंने अपने प्रदर्शन से दुनियाभर के क्रिकेट फैंस का दिल जीत लिया है, वो भी उस सीरीज का हिस्सा नहीं थे।