नई दिल्ली : चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 40) और कप्तान विराट कोहली (34) की सधी हुई साझेदारी के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट मैच की अपनी दूसरी पारी में शनिवार को तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक तीन विकेट के नुकसान पर 151 रन बना लिए हैं. एडिलेड ओवल मैदान पर जारी मैच में पुजारा और अजिंक्य रहाणे (1) नाबाद लौटे हैं. इस पारी में कोहली ने एक अन्य उपलब्धि हासिल की है. वह ऑस्ट्रेलिया में 1,000 टेस्ट रन बनाने वाले चौथे बल्लेबाज बन गए हैं. इस क्रम में वह सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ के साथ शामिल हो गए हैं. Also Read - मैदान पर लौटे स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ; भारत के खिलाफ सीरीज की तैयारी शुरू

Also Read - ऐतिहासिक जीत हासिल करने की प्रेरणा लेकर ऑस्ट्रेलिया गई थी टीम इंडिया : इशांत शर्मा

भारतीय टीम ने दिन की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी को 235 रनों पर समाप्त करने के साथ की. ऑस्ट्रेलिया के लिए ट्रेविस हेड (72) ने सबसे अधिक रन बनाए. मेजबान टीम की पारी समाप्त होने के साथ ही लंच ब्रेक की घोषणा कर दी गई थी. Also Read - भारत के ऑस्‍ट्रेलिया दौरे के कार्यक्रम का ऐलान, वर्ल्‍ड कप से पहले होगी टी20 सीरीज...

INDvsAUS: रिषभ पंत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, धोनी को पीछे छोड़ा

पहले सत्र के दौरान बारिश ने दोनों टीमों के खेल में दखल डालने की कोशिश की. सात विकेट पर 191 रनों के स्कोर से आगे खेलने उतरी ऑस्ट्रेलिया के आठवें विकेट को भारत ने 204 के स्कोर पर मिशेल स्टॉर्क (15) के रूप में गिराया. इसके बाद बारिश शुरू हुई, जो थोड़ी देर तक जारी रही.

बारिश के बंद होने के बाद भारतीय गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया के बाकी बचे दो विकेट भी हासिल कर लिए. ट्रेविस हेड (72) और जोश हेजलवुड (0) के रूप में दोनों विकेट 235 के स्कोर पर ही गिर गए. भारत के लिए इस पारी में रविचंद्रन अश्विन और जसप्रीत बुमराह ने तीन-तीन विकेट हासिल किए. इसके अलावा इशांत शर्मा और शमी को दो-दो सफलताएं मिली.

INDvsAUS: एडिलेड टेस्ट देखने पहुंची अनुष्का शर्मा, मैरिज एनिवर्सरी की चल रही प्लानिंग!

इसके बाद दूसरे सत्र में अपनी दूसरी पारी खेलने उतरी भारतीय टीम को लोकेश राहुल (44) और मुरली विजय (18) ने अच्छी शुरुआत दी. दोनों ने 63 रन जोड़े लेकिन मिशेल स्टॉर्क ने विजय को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ दिया. इसके बाद, 76 के स्कोर पर हेजलवुड ने राहुल को भी पवेलियन की राह दिखाई. पुजारा ने कोहली के साथ मिलकर टीम की कमान को संभाला और चायकाल तक बिना कोई और नुकसान किए टीम को 82 के स्कोर तक पहुंचाया.

तीसरे सत्र में पुजारा और कोहली ने अपनी साझेदारी को मजबूत करते हुए 71 रन जोड़े लेकिन नाथन ल्योन ने इसे आगे नहीं बढ़ने दिया. 147 के स्कोर पर कोहली ल्योन की गेंद पर एरॉन फिंच के हाथों लपके गए. पुजारा ने दिन का खेल समाप्त होन तक बिना कोई और नुकसान होने दिए बगैर रहाणे के साथ टीम को 151 के स्कोर तक पहुंचाया. इस स्कोर के तहत भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 166 रनों की बढ़त हासिल कर ली है. इस पारी में ऑस्ट्रेलिया के लिए मिशेल स्टॉर्क, हेजलवुड और नाथन ल्योन ने एक-एक विकेट हासिल किया.