भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का कहना है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड ओवल में खेले जा रहे डे-नाइट टेस्ट मैच की पिच साल 2018-19 के दौरे जैसी ही है। अश्विन ने ये भी दावा किया कि जैसे जैसे खेल के आगे बढ़ेगा, पिच बल्लेबाजी के लिए और बेहतर होती जाएगी। Also Read - गाबा टेस्‍ट जीतने के बाद भी Navdeep Saini को एक टांग पर भगाते रहे थे Rishabh Pant, बयां किए मैच के बाद के पल

अश्विन ने वर्चुअल मीडिया कांफ्रेंस के दौरान कहा, ‘‘पिछली बार जो हुआ था, उसे देखते हुए ये विकेट मैच के आगे बढ़ने के साथ बल्लेबाजी के लिए बेहतर होता जायेगा। पिछली बार ये पांचवें दिन बल्लेबाजों के लिए बेहतर हो गई थी। जब हम टेस्ट मैच के लिए उतरे तो हमें लगा कि हम पिछली बार की तरह की स्थिति में ही है।’’ Also Read - ICC Test Championship, Points Table: श्रीलंका को क्‍लीन स्‍वीप कर ENG ने बिगाड़ा समीकरण, टॉप-4 टीमों में महज 3 प्रतिशत का अंतर

अश्विन ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि पिछली बार हमने 250 रन बनाए थे और इस बार हम छह रन कम रह गए। हमें लगा कि हमने पिछली बार जो गेंदबाजी प्रदर्शन किया था, हम उससे शायद जरा सा बेहतर थे।’’ Also Read - मैं हर दिन बुरे वक्‍त की गरमाहट महसूस कर रहा था: रिषभ पंत

अश्विन ने कहा कि जब स्पिनर विदेशों में खेलता है तो इन दो चीजों को देखना चाहिए कि कितने रन बचाये और कितने विकेट लिये। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने हमेशा इस चीज का ध्यान रखा है, विशेषकर जब आप विदेशों में खेलते हो कि चीजें आपके हक में होनी चाहिए क्योंकि आप दो काम कर रहे हो और वो भी परिस्थितियों के खिलाफ कर रहे हो।’’

अश्विन ने कहा कि उनका विदेशों में हमेशा अच्छा प्रदर्शन रहा है, उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप पिछले दो सालों को देखो और अगर लोग उन दो खराब मैचों या खराब स्थितियों पर जोर नहीं दें तो पिछले 18 महीने में विदेशों में मेरा प्रदर्शन ठीक ठाक रहा है।’’