ऑस्ट्रेलिया-पाकिस्तान (Australia vs Pakistan) के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के दौरान तेज गेंदबाज पैट कमिंस (Pat Cummins) की गेंद को नो बॉल करार ना करने के फैसले पर फैंस के साथ पूर्व खिलाड़ी भी तीसरे अंपायर पर भड़के हुए हैं।

गाबा, ब्रिसबेन में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के दौरान कमिंस ने 55वें ओवर की दूसरी गेंद पर विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान (Mohammad Rizwan) को कप्तान टिम पेन (Tim Paine) के हाथों कैच आउट कराया। रिजवान जो कि अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे और यासिर शाह के साथ मिलकर एक साझेदारी खड़ी कर रहे थे, 34 गेंदो पर 37 रन बनाकर पवेलियन लौटने लगे।

ऑन फील्ड अंपायरों ने रिजवान को रोका और नो बॉल की जांच के लिए तीसरे अंपायर की मदद ली। रीप्ले में दिखा कि गेंद डालते समय कमिंस के पैर का कोई भी हिस्सा लाइन के पीछे नहीं था। लेकिन तीसरे अंपायर माइकल गफ ने ऑन फील्ड अंपायर का फैसला बरकरार रखा। जिसके बाद पाकिस्तानी फैंस काफी नाराज हुए।

तीसरे अंपायर के इस फैसले से कमेंट्री कर पूर्व खिलाड़ी एलेन बॉर्डर (Allan Border) भी बेहद हैरान हुए और उन्होंने कहा, “मैं (लाइन के पीछे) कुछ ढूंढने की कोशिश कर रहा हूं लेकिन कुछ है ही नहीं।”

वहीं ऑस्ट्रेलिया के ही पूर्व खिलाड़ी एडम गिलक्रिस्ट (Adam Gilchrist) और ब्रेट ली (Brett Lee) ने एक इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए समझाने की कोशिश की वो नो बॉल ही थी। गेंद को समझाते हुए पूर्व तेज गेंदबाज ली की तस्वीर के साथ गिलक्रिस्ट ने लिखा, “हालांकि वो एक तेज गेंदबाज है, फिर भी ब्रेट ली का कहना है कि लाइन के पीछे कुछ भी नहीं था।”