बेंगलुरू. ग्लेन मैक्सवेल ने अपने आक्रामक तेवरों का जबर्दस्त नजारा पेश करके करियर का तीसरा शतक जड़ा और विराट कोहली के आकर्षक अर्धशतक पर पानी फेरा जिससे ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे और अंतिम टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में बुधवार को यहां भारत को सात विकेट से हराकर दो मैचों की श्रृंखला में क्लीनस्वीप किया. भारत ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर चार विकेट पर 190 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया. इसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 19.4 ओवर में तीन विकेट पर 194 रन बनाकर कोहली का घरेलू सरजमीं पर सभी प्रारूपों की श्रृंखलाओं में अजेय रहने के रिकॉर्ड पर विराम लगाया. कोहली की कप्तानी में भारत ने सभी प्रारूपों में पिछली 15 श्रृंखलाओं में से 14 में जीत दर्ज की थी जबकि एक ड्रॉ रही थी. अब इन दोनों टीमों के बीच पांच एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला खेली जाएगी. Also Read - Australia vs India: तीसरे वनडे मैच में नजर आ सकते हैं ये भारत-ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी

Also Read - विराट कोहली vs स्टीव स्मिथ: देखें: पिछली 10 वनडे पारियों स्मिथ का रहा है जलवा

INDvsAUS T20: कोहली और धोनी का धमाल, भारत ने खड़ा किया 190 रनों का पहाड़ Also Read - India vs Australia 2020/21: दूसरे वनडे में कप्तान Virat Kohli से हुई ये 3 गलती, जानिए पूरी डिटेल

केएल राहुल (26 गेंदों पर 47) से मिली अच्छी शुरुआत को कोहली और धोनी ने बखूबी आगे बढ़ाया. कोहली ने 38 गेंदों पर दो चौकों और छह छक्कों की मदद से नाबाद 72 रन बनाए, जबकि धोनी की 23 गेंद पर खेली गई 40 रन की पारी में तीन चौके और तीन छक्के शामिल हैं. राहुल ने अपनी पारी में तीन चौके और चार छक्के लगाये थे. कोहली और धोनी ने चौथे विकेट के लिए 100 रन जोड़े. मैक्सवेल ने उनके प्रयासों पर पानी फेरने में कोई कसर नहीं छोड़ी. पिछले मैच में अर्धशतक जड़ने वाले इस बल्लेबाज ने 55 गेंदों पर नाबाद 113 रन बनाए, जिसमें सात चौके और नौ छक्के शामिल हैं. उन्होंने डी आर्शी शार्ट (28 गेंद पर 40) के साथ तीसरे विकेट के लिए 73 और पीटर हैंड्सकांब के साथ चौथे विकेट के लिए 99 रन की अटूट साझेदारी की. इसमें हैंडसकांब का योगदान नाबाद 20 रन था.

भारत को सिद्धार्थ कौल की अनुभवहीनता महंगी पड़ी जिन्होंने डेथ ओवरों में मैक्सवेल को फुलटॉस गेंदें करके रन लुटाए. जसप्रीत बुमराह प्रभावी रहे लेकिन भारत को लगातार दूसरे मैच में डेथ ओवरों में उनके अदद साथी की कमी खली. ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही और एक समय उसका स्कोर दो विकेट पर 22 रन था. कोहली ने विजय शंकर (38 रन देकर दो विकेट) से गेंदबाजी का आगाज कराया और अगले ओवर में उनके स्थान पर कौल को गेंद सौंपी जिन्होंने मार्कस स्टोइनिस (सात) की गिल्लियां बिखेरी. शंकर छोर बदलकर गेंदबाजी करने आये और कप्तान आरोन फिंच (आठ) को आउट करने में सफल रहे.

INDvsAUS T20: क्या अपने टी-20 करियर का आखिरी मैच खेल रहे हैं महेंद्र सिंह धोनी!

INDvsAUS T20: क्या अपने टी-20 करियर का आखिरी मैच खेल रहे हैं महेंद्र सिंह धोनी!

शार्ट और मैक्सवेल ने टीम को इन झटकों से उबारा. मैक्सवेल ने बुमराह पर छक्का जड़कर शुरुआत की. शार्ट ने इस बीच उनके सहयोगी की भूमिका बखूबी निभायी. शंकर ने अपने आखिरी ओवर में शार्ट को कवर पर कैच कराकर यह साझेदारी तोड़ी. मैक्सवेल भारत की तरफ से लगे छक्कों का अकेले जवाब देने के मूड में दिख रहे थे. उन्होंने कृणाल पंड्या पर लांग आफ क्षेत्र में लंबा छक्का जड़ने के बाद अगले ओवर में युजवेंद्र चहल की दो गेंदों को छह रन के लिए भेजा. ऑस्ट्रेलिया को जब चार ओवर में 44 रन की दरकार थी तब भारत का दारोमदार डेथ ओवरों के विशेषज्ञ बुमराह पर टिका था. मैक्सवेल ने उन पर दो चौके लगाए और फिर अगले ओवर में कौल की अनुभवहीनता का फायदा उठाकर दो छक्कों की मदद से 18 रन बटोरे. बुमराह ने 19वें ओवर में पांच रन दिए लेकिन कौल अंतिम ओवर में नौ रन का बचाव नहीं कर पाए.

(इनपुट – एजेंसी)